वैक्सीन पर घुमा अखिलेश यादव की साइकिल का पहिया, बोले “हम भी टीका लगवाएंगे”

0
176
अखिलेश यादव (फाइल फोटो)
अखिलेश यादव (फाइल फोटो)

Uttar Pradesh, Akhilesh Yadav. “हम भाजपा के टीके के ख़िलाफ़ थे पर ‘भारत सरकार’ के टीके का स्वागत करते हुए हम भी टीका लगवाएंगे।” ये बयान है उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश (Akhilesh Yadav) यादव का। अखिलेश यादव ने मंगलवार की सुबह एक ट्वीट किया। ट्वीट में उन्होंने सरकार को कुछ नसीहतें दी। फिर टीके को लेकर अपने पुराने बयान की ओर से साइकिल मुड़ा लिया।

अखिलेश यादव ने लिखा कि “जनाक्रोश को देखते हुए आख़िरकार सरकार ने कोरोना के टीके के राजनीतिकरण की जगह ये घोषणा करी कि वो टीके लगवाएगी।”

इसके बाद अखिलेश यादव लिखते हैं कि “हम भाजपा के टीके के ख़िलाफ़ थे पर ‘भारत सरकार’ के टीके का स्वागत करते हुए हम भी टीका लगवाएंगे व टीके की कमी से जो लोग लगवा नहीं सके थे उनसे भी लगवाने की अपील करते हैं।”

पुराने बयान से तोड़ा नाता:

अखिलेश यादव ने आज अपने पुराने विचार बदल लिए। टीकाकरण की शुरुआत में ही उन्होंने कोरोना के टीके का विरोध किया था। अखिलेश यादव ने टीके को भाजपा की वैक्सीन कहा था। उन्होंने कहा था कि “हमें भाजपा की वैक्सीन पर भरोसा नहीं। इसलिए हम इसका विरोध करते हैं।” अखिलेश यादव के इस बयान से समाजवादी पार्टी के नेताओं ने भी टीके का विरोध किया।

पढ़िए अखिलेश यादव का पुराना बयान:

वाराणसी से समाजवादी पार्टी के एमएलसी स्नातक आशुतोष सिन्हा ने भी वैक्सीन को लेकर अटपटा बयान दिया था। आशुतोष सिन्हा ने आशंका जताई थी कि “टीका लगवाने से लोग नपुंसक हो सकते हैं।” इन बिना सिर पैर के बयानों का असर गांवों में खूब दिखा है। कोरोना को लेकर फैले भ्रम ने ग्रामीण इलाकों के लोगों में डर पैदा किया। बहुत से लोग टीका लगवाने से कतराने लगे थे।

भाजपा की टीका या भारत सरकार की टीका:

अखिलेश यादव ने अपनी ट्वीट में लिखा है कि “हम भाजपा के टीके के ख़िलाफ़ थे पर ‘भारत सरकार’ के टीके का स्वागत करते हुए हम भी टीका लगवाएंगे” अब सवाल उठता है कि क्या ये टीका भाजपा की थी? अगर टीका भाजपा की थी तो अब वो भारत सरकार की कैसे हो गई? जबकि अभी भी वही Covishield और Covaxin लगाई जा रही है। अखिलेश यादव को अपना बयान स्पष्ट करना चाहिए।

मुलायम सिंह यादव ने लगवाई वैक्सीन:

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव (Mulayam Singh Yadav) ने गत सोमवार को कोरोना की वैक्सीन लगवाई। उन्हें मेदांता अस्पताल में टीके की पहली खुराक लगी। अखिलेश यादव मुलायम सिंह यादव के ही बेटे हैं। यही वजह रही कि जब मुलायम सिंह यादव ने वैक्सीन लगवाई तब बहुत लोगों ने अखिलेश पर निशाना साधा। हालांकि अब अखिलेश यादव को भी टीके पर भरोसा हो गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here