Latest News
Home ताजा खबर काशी विद्यापीठ: शताब्दी वर्ष महोत्सव पर लग गया काला धब्बा, पुस्तक मेले में छात्र नेताओं ने किया तोड़फोड़

काशी विद्यापीठ: शताब्दी वर्ष महोत्सव पर लग गया काला धब्बा, पुस्तक मेले में छात्र नेताओं ने किया तोड़फोड़

by Khabartakmedia

महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ विश्वविद्यालय के शताब्दी वर्ष महोत्सव दागदार हो गया है। पिछले दो दिनों से हंसी खुशी चल रहा उत्सव अशांत हो गया है। कारण है विश्वविद्यालय प्रशासन और छात्र नेता। मामला छात्र संघ चुनाव का है। छात्र नेताओं ने छात्र संघ चुनाव में हो रही देरी पर हंगामा खड़ा कर दिया है। विश्वविद्यालय के भगवानदास पुस्तकालय में लगे पुस्तक मेले में गुस्साए छात्र नेताओं ने तोड़फोड़ किया है। छात्र नेताओं ने पुस्तक मेले में लगे किताब के दो स्टॉलों को नुक़सान पहुंचाया है। किताबें क्षतिग्रस्त भी हुई हैं।

गिरे किताबों को उठाते हुए पुस्तक मेले के स्टॉल कर्मचारी

गौरतलब है कि भगवानदास पुस्तकालय के ऊपरी माले पर जिला प्रशासन, विश्वविद्यालय प्रशासन और विद्यापीठ के छात्र नेताओं के बीच बैठक चल रही थी। बैठक के चुनाव अधिकारी प्रो. कृपाशंकर जयसवाल भी शामिल थे। जिला प्रशासन की ओर से एसडीएम भी मौजूद रहे। बैठक के दौरान प्रशासन और छात्र नेताओं के बीच खूब गर्मागर्मी हुई। लेकिन बैठक के दौरान कोई नतीजा नहीं निकल सका। इसी बीच छात्र नेताओं का धैर्य जवाब दे गया। सभी छात्र नेता समिति कक्ष से उठकर नीचे आने लगे।

नीचे उतरते हुए छात्र नेताओं ने पुस्तक मेले में लगे किताब की स्टॉल को पटक दिया। टेबल पर लात मारी गई। लगभग सौ से अधिक किताबें नीचे गिर पड़ी। एक कर्मचारी के हाथ में हल्की चोट भी लग गई। इस हंगामे के बाद भगवानदास पुस्तकालय को बंद कर दिया गया है।

इसके बाद एकजुट होकर सभी छात्र नेता विश्वविद्यालय के खेल मैदान में पहुंच गए। जहां विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. टी. एन. सिंह क्रिकेट मैच का आनंद ले रहे थे। यहां छात्र नेताओं ने उग्र रूप अख्तियार कर लिया। माइक को पटक दिया और समियना गिराने की कोशिश भी की गई।

Related Articles

Leave a Comment