Latest News
Home अपराध वाराणसी: ट्रक में मिला छह क्विंटल गांजा, कीमत लगभग एक करोड़

वाराणसी: ट्रक में मिला छह क्विंटल गांजा, कीमत लगभग एक करोड़

by Khabartakmedia

वाराणसी में राजस्व आसूचना निदेशालय (डीआरआई) की यूनिट को बड़ी कामयाबी हाथ लगी है। गुप्त सूचना के आधार पर डी आर आई की टीम ने दो गांजा तस्करों को धर दबोचा है। यूनिट ने अपने सूत्रों के जरिए इन तस्करों को पकड़ा है। साथ में बड़ी मात्रा में गांजा भी बरामद हुआ है। बताया जा रहा है कि इसकी कीमत बाजार में लगभग एक करोड़ के बराबर है। डीआरआई इस वक्त काफी सक्रिय है। पूर्वांचल में लगातार तस्करों को पकड़ा जा रहा है। अब एक बार वाराणसी में गांजे की बड़ी खेप पकड़ ली गई है।

फिल्मी अंदाज में पकड़ी गई तस्करी:

पूर्वांचल के जिले इस समय तस्करी का रास्ता बना हुआ है। इस रास्ते आसानी से पुलिस को चकमा देकर माल की सप्लाई चल रही है। लेकिन सोमवार को बिल्कुल फिल्मी अंदाज में डीआरआई की टीम ने इस अवैध तस्करी को पकड़ लिया। यूनिट से ऐसी मुखबिरी की गई थी कि आज वाराणसी के रास्ते कुछ माल जाने वाला है। टीम के पास रास्ते की सटीक जानकारी थी। इसलिए हेरिटेज मेडिकल कॉलेज के पास घेराबंदी की गई। इस दौरान एक ट्रक आ पहुंचा। ट्रक का नंबर UP 81 AB 9056 था। ट्रक रोकी गई। ट्रक की तलाशी शुरू हो गई। इसी दौरान डीआरआई को ट्रक चालक के केबिन से छह क्विंटल गांजा मिला। जिसकी कीमत बाजार में लगभग एक करोड़ रुपए बताई जा रही है।

सीनियर इंटेलिजेंस ऑफिसर ने बताया कि “मुखबिर से सूचना मिली थी कि उड़ीसा से ट्रक में भारी मात्रा में गांजा अलीगढ़ भेजा जा रहा है। इसी दौरान टीम ने हेरिटेज मेडिकल कॉलेज के पास घेराबंदी कर ट्रक को पकड़ लिया। ट्रक में सवार हाथरस निवासी ड्राइवर तिलक सिंह और हापुड़ निवासी शैलेंद्र ने बताया कि वे उड़ीसा के कोरापुट से गांजा लेकर अलीगढ़ जा रहे थे।” उन्होंने आगे बताया कि “गांजा को ड्राइवर के केबिन में पीछे की दीवार में गुप्त रूप से छुपा कर रखा गया था। जिसकी कीमत करीब एक करोड रुपए है। पकड़े गए अभियुक्तों से पूछताछ की जा रही है। मिली जानकारी के अनुसार वे काफी दिनों से गांजे की तस्करी कर रहे हैं। अभियुक्तों से पूछताछ में तस्करी करने वाले अन्य लोगों के बारे में भी जानकारी मिली है।”

Related Articles

Leave a Comment