Latest News
Home पूर्वांचल की खबरवाराणसी ब्लॉक प्रमुखी में भी दगा दे रहे पुराने सपाई, इस बार भाजपा में पत्नी संग हुए प्रवेश!

ब्लॉक प्रमुखी में भी दगा दे रहे पुराने सपाई, इस बार भाजपा में पत्नी संग हुए प्रवेश!

by
Pravesh Patel and his wife Renu Patel joins BJP

Uttar Pradesh Politics: समाजवादी पार्टी (SP) इन दिनों अपने पलटू नेताओं से परेशान चल रही है। सपा की साइकिल दल बदलने वाले नेताओं के चलते डगमगा रही है। साइकिल से कूद कर लोग कमल की शरण में जा रहे हैं। उत्तर प्रदेश चुनाव से पहले ये आलम सपा और अखिलेश यादव के लिए चिंता का सबब बना हुआ है। उत्तर प्रदेश में होने वाले ब्लॉक प्रमुख के चुनाव से पहले वाराणसी में सपा को करारा झटका लगा है।

वाराणसी के काशी विद्यापीठ ब्लॉक के पूर्व प्रमुख प्रवेश पटेल मंगलवार को सपा से भारतीय जनता पार्टी (BJP) में चले गए। प्रवेश पटेल अपनी पत्नी रेनू पटेल के साथ भाजपा में शामिल हो गए। उन्होंने पार्टी तब बदली है जब महज चार दिनों बाद उत्तर प्रदेश में ब्लॉक प्रमुख का चुनाव होना है।

सूत्रों के हवाले से प्रवेश पटेल और उनकी पत्नी रेनू पटेल के पार्टी परिवर्तन का कारण पता चला है। प्रवेश पटेल की पत्नी रेनू पटेल इस बार ब्लॉक प्रमुख चुनाव में उतरने वाली हैं। सूत्रों का कहना है कि भाजपा की ओर से प्रवेश पटेल को यह ऑफर दी गई थी कि अगर वो भाजपा में शामिल हो जाते हैं तो उनकी पत्नी को ब्लॉक प्रमुख के चुनाव में निर्विरोध जिताया जाएगा

गौरतलब है कि प्रवेश पटेल काशी विद्यापीठ ब्लॉक से पूर्व ब्लॉक प्रमुख थे। सपा में रहते हुए इस बार उनकी पत्नी रेनू पटेल का चुनाव जीतना लगभग मुश्किल था। इसलिए पद बचाने के लिए उन्होंने अपना खेमा बदल लिया।

जिलाध्यक्ष पर गिर सकती है गाज:

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने जिला पंचायत अध्यक्ष के चुनाव के समय अपनी पार्टी के 17 जिलाध्यक्षों को पद से बर्खास्त कर दिया था। संगठन की कमजोरी और लगातार सपा से भाजपा में जा रहे क्षेत्रीय नेता इसकी वजह थे। जिलाध्यक्षों को इस बात की भनक भी नहीं मिल पा रही है कि उनके जिले से कौन नेता पार्टी छोड़ सकता है।

अब ब्लॉक प्रमुख के चुनाव से पहले प्रवेश पटेल और रेनू पटेल के पार्टी छोड़ने पर वाराणसी से सपा के जिलाध्यक्ष सुजीत यादव लक्कड़ पर तलवार लटकी हुई है। देखना होगा कि क्या उन पर भी इस तरह की कार्रवाई हो सकती है?

बता दें कि उत्तर प्रदेश में 10 जुलाई को ब्लॉक प्रमुख का चुनाव होना है। इसी दिन वोटों की गिनती भी होगी। जिसके बाद चुनाव के नतीजे आएंगे। इससे पहले 8 जुलाई को नामांकन होगा। जबकि 9 जुलाई को प्रत्याशी अपना नामांकन वापस ले सकेंगे।

Related Articles

Leave a Comment