Latest News
Home कोरोना वायरस काशी की सोनू सूद साबित हो रही हैं रोशनी कुशल जायसवाल

काशी की सोनू सूद साबित हो रही हैं रोशनी कुशल जायसवाल

by Khabartakmedia

कोरोना महामारी के इस नए लहर में कुछ भी सामान्य नहीं छोड़ा है। कोविड-19 संक्रमण के शिकार होकर लोग अपनी जान गंवा रहे हैं। लेकिन उससे भी ज्यादा लोग जरूरी इलाज और दवाइयों की कमी से अपना दम तोड़ रहे हैं। ऐसे में बहुत से लोग निकल कर सामने आ रहे हैं, जो जरूरतमंदों की मदद कर रहे हैं। वाराणसी में पिछले साल इस महामारी की शुरुआत से ही रोशनी कुशल जायसवाल लगातार ऐसे लोगों की सहायता कर रही हैं। मास्क, सेनेटाइजर, राशन, पका हुआ भोजन जैसी मूलभूत जरूरतों को पहुंचाने में रोशनी कुशल जायसवाल और उनकी टीम आगे रही है। उन्होंने इस दौरान कई लोगों की आर्थिक मदद भी की।

जब कोरोना संक्रमण का खौफनाक दूसरा लहर चल रहा है तब भी रोशनी कुशल जायसवाल अपने काम में लगी हुई हैं। काशी की सोनू सूद साबित हो रहीं रोशनी ने अपनी एक्सयूवी गाड़ी को एम्बुलेंस बना दिया है। जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा की अनुमति के बाद उन्होंने अपनी गाड़ी को बतौर एम्बुलेंस 24 घंटे इस्तेमाल के लिए तैयार कर दिया है। आपातकालीन स्थिति में उनकी गाड़ी से मरीजों को अस्पताल ले जाया जा रहा है। यह सब कुछ निशुल्क ही हो रहा है।

काम पर है पूरी टीम:

रोशनी कुशल जायसवाल के साथ एक पूरी टीम काम कर रही है। महामारी के दौर में जरूरत पड़ने पर लोग उन्हें फोन कर रहे हैं। पूरी टीम का फोन नंबर सोशल मीडिया पर तैर रहा है।
रोशनी कुशल जायसवाल- 7007588087
मोनू मिश्रा- 7348042589
प्रांजल श्रीवास्तव- 8299741952

रोशनी कुशल जायसवाल की टीम में शामिल हैं आलम अंसारी, अफ़ज़ल अंसारी, विक्रांत मिश्रा, कुशल जायसवाल, आनंद जायसवाल, सुजान ख़ान, जीशान ख़ान, मुन्ना भाई, सूर्य प्रताप सिंह। इनमें सबसे गंभीर काम कर रहे हैं अफजल अंसारी, जिनका विशेष धन्यवाद रोशनी कुशल जायसवाल भी करती हैं। अफजल ही एम्बुलेंस का काम कर रही गाड़ी को चलाते हैं। जो कि बेहद जोखिम भरा काम है।

Related Articles

Leave a Comment