Latest News
Home ताजा खबर प्रधानमंत्री को मिली फुर्सत, कुंभ मेला के संतों से की अपील!

प्रधानमंत्री को मिली फुर्सत, कुंभ मेला के संतों से की अपील!

by Khabartakmedia

Kumbh Mela in Haridwar. भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी आखिरकार समय मिल ही गया। पश्चिम बंगाल की चुनावी समर से कुछ वक्त निकालकर प्रधानमंत्री ने कोरोना संक्रमण की सुध ली है। इस ख़तरनाक कोविड संक्रमण के बीच चल रहे कुंभ मेला को लेकर उन्होंने अपील की है। पीएम मोदी ने जुना अखाड़ा के महामंडलेश्वर अवधेशानंद गिरि से फोन पर बात की है। प्रधानमंत्री और अवधेशानंद गिरि के बीच हुई यह बातचीत कुंभ मेले को लेकर हुई है।

प्रधानमंत्री ने सभी संतों से अपील की है कि कुंभ मेला को अब प्रतीकात्मक किया जाए। उन्होंने कहा है कि अब तक दो शाही स्नान पूरे हो चुके हैं। इसलिए इसके बाद बचे शाही स्नान को प्रतीकात्मक रखा जाए। पीएम ने कहा है कि ऐसा करने से कोविड के खिलाफ चल रही लड़ाई में ताकत मिलेगी। ये बातें नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर बताई हैं। उन्होंने लिखा है कि “मैंने प्रार्थना की है कि दो शाही स्नान हो चुके हैं और अब कुंभ को कोरोना के संकट के चलते प्रतीकात्मक ही रखा जाए। इससे इस संकट से लड़ाई को एक ताकत मिलेगी।”

गौरतलब है कि इस आफतभरी महामारी में भी हरिद्वार में कुंभ मेला चल रहा है। कुंभ मेले में अब तक 30 से अधिक संतों के कोरोना संक्रमित होने का सरकारी आंकड़ा है। जबकि बड़ी संख्या में आम लोग भी कोविड से संक्रमित हुए हैं। प्रधानमंत्री ने अवधेशानंद गिरि से हुई फोन की बातचीत में संतों का हाल भी जाना है। पीएम ने एक ट्वीट में लिखा है कि “आचार्य महामंडलेश्वर पूज्य स्वामी अवधेशानंद गिरि जी से आज फोन पर बात की। सभी संतों के स्वास्थ्य का हाल जाना। सभी संतगण प्रशासन को हर प्रकार का सहयोग कर रहे हैं। मैंने इसके लिए संत जगत का आभार व्यक्त किया।”

प्रतीकात्मक होगा शाही स्नान:

प्रधानमंत्री की इस अपील पर कुंभ मेला में शामिल संतों ने पहल की है। अवधेशानंद गिरि ने जनता से यह अपील की है कि कोविड की स्थिति को देखते हुए बड़ी संख्या में शाही स्नान के लिए ना आएं। उन्होंने लोगों से सभी नियमों का पालन करने के लिए भी कहा है। उन्होंने पीएम के ट्वीट पर प्रतिक्रिया देते हुए लिखा है कि “माननीय प्रधानमंत्री जी के आह्वान का हम सम्मान करते हैं ! जीवन की रक्षा महत पुण्य है।मेरा धर्म परायण जनता से आग्रह है कि कोविड की परिस्थितियों को देखते हुए भारी संख्या में स्नान के लिए न आएँ एवं नियमों का निर्वहन करें!”

हरिद्वार के कुंभ मेले में लाखों की संख्या में लोग पहुंचे हैं। शाही स्नान के लिए लोगों की भीड़ इकट्ठा हुई है। इस बीच बहुत से लोग कोरोना वायरस से संक्रमित भी हुए हैं। परिस्थिति को देखते हुए शुरू में ही कुंभ मेले की भीड़ पर रोक लगाया जाना चाहिए था। लेकिन ये रोक अब तक नहीं लगी है। संक्रमण के बेकाबू हो जाने के बाद प्रधानमंत्री और संतों की ओर से अपील की गई है। लेकिन अब ये आने वाले दिनों में पता चलेगा कि इस अपील का कितना असर होता है?

Related Articles

Leave a Comment