Latest News
Home ताजा खबर देश में एक नई जमात आंदोलनजीवियों की पैदा हुई: नरेंद्र मोदी

देश में एक नई जमात आंदोलनजीवियों की पैदा हुई: नरेंद्र मोदी

by Khabartakmedia

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव पर राज्यसभा में चर्चा चल रही थी। भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सोमवार को राज्यसभा में भाषण दिया। पीएम मोदी ने अपने भाषण में कृषि कानून और किसान आंदोलन को लेकर भी बातें कही। पीएम ने उम्मीद जताई कि जल्द ही किसान आंदोलन खत्म हो जाएगा। उन्होंने किसानों से अपील की कि “आइए हम बैठकर बातचीत करें और कृषि सुधारों को जमीन पर उतरने दें।”

अपने भाषण में प्रधानमंत्री ने आंदोलनकारियों पर व्यंग्य कसा। उन्होंने कहा कि “हमने श्रमजीवी और बुद्धिजीवी जैसे शब्द तो सुने हैं। लेकिन पिछले कुछ सालों में देश में एक नई जमात पैदा हुई है। ये जमात है आंदोलनजीवियों की।” उन्होंने आगे कहा कि “आंदोलनजिवी लोग हर जगह आंदोलन में घुस जाते हैं। वकीलों का आंदोलन हो, मजदूरों का आंदोलन हो या अब किसानों का आंदोलन हो। ये लोग हर जगह पहुंच जाते हैं।”

प्रधानमंत्री ने कहा कि ये आंदोलनजिवी परजीवी लोग हैं। ये खुद तो कुछ कर नहीं सकते लेकिन हर जगह घुस जरूर जाते हैं। पीएम ने आखिर में भारत के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के अभिभाषण पर उनका आभार जताया।

बता दें कि केंद्र सरकार के तीन कृषि कानूनों के खिलाफ देशभर में आंदोलन चल रहा है। किसान आंदोलन को अब लगभग 75 दिन हो चुके हैं। इस आंदोलन में अब तक डेढ़ सौ से ज्यादा आंदोलनकारियों ने जान गंवा दी है। किसान नेताओं और सरकार के बीच अब तक 11 दौर की बातचीत हो चुकी है। लेकिन दोनों पक्षों में कोई रास्ता नहीं निकल सका है। किसानों की मांग है कि मोदी सरकार तीनों कृषि कानूनों को वापस ले। हालांकि सरकार की मंशा बिल्कुल ही अलग है। तो वहीं किसानों ने भी ऐलान कर दिया है कि जब तक सरकार कानून वापस नहीं लेगी, किसान घर वापस नहीं जाएंगे। अब देखना होगा कि इस मसले का हल कैसे निकलता है?

Related Articles

Leave a Comment