Latest News
Home महापुरुष- जन्मदिन/पुण्यतिथि प्रथम प्रधानमंत्री पंडित नेहरू की पुण्यतिथि पर वर्तमान प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने नहीं किया कोई ट्वीट!

प्रथम प्रधानमंत्री पंडित नेहरू की पुण्यतिथि पर वर्तमान प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने नहीं किया कोई ट्वीट!

by Khabartakmedia

Pandit Jawaharlal Nehru Death Anniversary. आज दिन गुरुवार का है। तारीख 27 मई, 2021 है। 27 मई की तारीख हिंदुस्तान के इतिहास में काफी दुखद है। आज ही के दिन 1964 में भारत के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू का निधन हो गया था। 27 मई, 1964 की सुबह उन्हें हृदयाघात हुआ। दोपहर दो बजे के करीब उनकी मृत्यु हो गई। आज देश के पहले प्रधानमंत्री पंडित नेहरू की 57 वीं पुण्यतिथि है।

इस मौके पर लाखों लोग उन्हें अपने ढंग से याद कर रहे हैं। पंडित जवाहरलाल नेहरू के जीवन पर अलग अलग वेबीनार आयोजित किए गए। पूरे दिन पंडित नेहरू की चर्चा होती रही। भारत की आजादी के लिए उनके संघर्ष को याद किया गया। 17 साल तक बतौर प्रधानमंत्री उन्होंने देश के लिए जो काम किए उसकी चर्चा हो रही है। ट्विटर पर लाखों लोग उन्हें श्रद्धांजलि देते हुए ट्वीट कर रहे हैं।

भारत के वर्तमान प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पंडित नेहरू की पुण्यतिथि पर कुछ नहीं लिखा है। पीएम मोदी ने आज उनकी पुण्यतिथि पर एक भी ट्वीट नहीं किया है। हालांकि आज पूरे दिनभर में पीएम मोदी ने कुल दो ट्वीट किए हैं। लेकिन इनमें एक भी भारत के पहले प्रधानमंत्री को याद करता हुआ ट्वीट नहीं है। प्रधानमंत्री मोदी का देश के पहले पीएम की पुण्यतिथि पर एक भी ट्वीट नहीं करना बेहद शर्मनाक मालूम होता है।

पद की गरिमा का नहीं है ख्याल:

पीएम नरेंद्र मोदी ने आज एक तरह से अपने पद की गरिमा को ठेस पहुंचाया है। क्योंकि ऐसा अब तक कभी नहीं हुआ है। जिस पद पर नरेंद्र मोदी बैठे हैं उस पर सबसे पहले बैठे थे पंडित जवाहरलाल नेहरू। देश के पहले प्रधानमंत्री। ऐसे में वर्तमान प्रधानमंत्री का यह फर्ज बनता है कि अपने पद के पूर्वज को याद करे। भले ही पंडित नेहरू कांग्रेस पार्टी के नेता थे। नरेंद्र मोदी भाजपा के नेता हैं। दोनों पार्टियां एक दूसरे की विरोधी हैं। लेकिन प्रधानमंत्री के लिए कोई पार्टी भेद नहीं होता है।

वैसे भी पंडित जवाहरलाल नेहरू राजनीतिक दलों की दलदल से बहुत ऊपर हैं। उन्होंने अपने जीवन का 30 साल भारत के आजादी की लड़ाई में खपा दिया। देश की आजादी के लिए 10 साल तक जेल में रहे। इसके बाद 17 सालों तक भारत के प्रधानमंत्री रहे। विश्वशांति के सबसे बड़े नेताओं में से एक बने। ऐसे में उन्हें किसी पार्टी के चश्मे से देखना एक अपमान की तरह है।

भारत के वर्तमान प्रधानमंत्री ने भारत के पूर्व प्रधानमंत्री की पुण्यतिथि पर उन्हें श्रद्धांजलि नहीं दी। आज नरेंद्र मोदी ने एक कुंठित परंपरा को जन्म दे दिया है। जबकि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की ट्विटर टाइमलाइन खंगालने पर पता चलता है कि वो इस काम में बहुत आगे हैं। पीएम मोदी हर बड़े नेता की जयंती और पुण्यतिथि पर ट्वीट करते हैं। लेकिन आज पंडित नेहरू की पुण्यतिथि पर उन्होंने ये काम नहीं किया। क्या यह संकीर्णता नहीं है? क्या प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज नैतिकता और गरिमा को कई सीढ़ी नीचे नहीं गिरा दिया है?

Related Articles

1 comment

Avatar
Purushottam kumar May 27, 2021 - 3:43 pm

बेहद शर्मनाक

Reply

Leave a Comment