Latest News
Home ताजा खबर वाराणसी: काशी विश्वनाथ धाम में मकान गिरने से दो की मौत, प्रधानमंत्री मोदी ने ली सुध!

वाराणसी: काशी विश्वनाथ धाम में मकान गिरने से दो की मौत, प्रधानमंत्री मोदी ने ली सुध!

by Khabartakmedia

Kashi Vishwanath Temple, Varanasi. मंगलवार की सुबह वाराणसी में एक बड़ी दुर्घटना घटी है। काशी विश्वनाथ मंदिर के नजदीक स्थित एक मकान भरभरा कर गिर गया। मकान गिरने पर कुल नौ लोग मलबे में दब गए। चीख पुकार मचने पर काशी विश्वनाथ मंदिर की सुरक्षा में तैनात पुलिसकर्मी घटनास्थल पर पहुंचे। आनन फानन में राहत टीम बुलाई गई। मलबा हटाया गया। दबे हुए लोगों को पुलिस ने बाहर निकाला।

मलबे में दबे नौ लोग घायल हो चुके थे। सभी को अस्पताल ले जाया गया। शिवप्रसाद गुप्त मंडलीय चिकित्सालय में घायलों का इलाज शुरू हुआ। जबकि डॉक्टर ने दो लोगों को मृत घोषित कर दिया। इस दुर्घटना में अब्दुल मोमिन (25 वर्ष) और अमीनुल मोमिन (45 वर्ष) की मौत हो गई। दोनों के मृत्यु की पुष्टि एसीपी दशाश्वमेध अवधेश कुमार पांडेय ने की है। बताया जा रहा है कि दोनों ही आदमी पश्चिम बंगाल के मालदा जिले के रहने वाले थे। दोनों यहां मजदूरी करते थे।

प्रधानमंत्री ने जाना हाल:

दुर्घटना की खबर हर तरफ तुरंत ही पहुंच गई। वाराणसी के सांसद और भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के कानों तक भी यह बात पहुंची। प्रधानमंत्री मोदी ने वाराणसी के जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा से फोन पर बातचीत की है। उन्होंने दुर्घटना का हाल जाना है। जिलाधिकारी ने एक ट्वीट कर इस बात की जानकारी दी है।

जिलाधिकारी ने लिखा है कि “पीएम नरेंद्र मोदी ने आज सुबह हमें फोन किया था। उन्होंने वाराणसी में मकान गिरने के सिलसिले में पूछताछ की। उन्होंने पीड़ित परिवारों के प्रति शोक व्यक्त की है। उन्होंने हर संभव मदद देने के लिए दिशानिर्देश दिए हैं।”

जिलाधिकारी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आभार जताया है।

बता दें कि मलबे में दबकर जान गंवाने वाले दो लोगों के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है। जानकारी के मुताबिक अन्य सात घायलों की स्थिति अभी ठीक है।

ये सभी मजदूर काशी विश्वनाथ कॉरिडोर निर्माण में काम करते हैं। ये सभी लोग पास के ही गोयनका छात्रावास में अस्थाई रूप से रहा करते थे। गोयनका छात्रावास का मकान बेहद पुराना और जर्जर था। जिसके चलते आज सुबह अचानक ये मकान गिर गया और एक बड़ी दुर्घटना हो गई। जिसमें दो लोगों को अपनी जान भी गंवानी पड़ गई है।

Related Articles

Leave a Comment