Latest News
Home ताजा खबर इस महीने 11वीं बार बढ़ा पेट्रोल-डीजल का दाम, बढ़ती महंगाई से जनता परेशान!

इस महीने 11वीं बार बढ़ा पेट्रोल-डीजल का दाम, बढ़ती महंगाई से जनता परेशान!

by
PETROL-DIESEL PRICE HIKE

Petrol-Diesel Price Hike. रविवार यानी आज एक बार फिर पेट्रोल और डीजल के दाम बढ़े हैं। आज डीजल की कीमत 30 पैसे बढ़ाई गई है। जबकि पेट्रोल के दाम 29 पैसे तक बढ़ाए गए हैं। आज की बढ़ोतरी के बाद दिल्ली में पेट्रोल 97.22 रुपया प्रति लीटर हो चुका है। डीजल 87.97 रुपए प्रति लीटर बिक रहा है।

मुंबई में पेट्रोल के दाम 100 के पार चली गई है। यहां पेट्रोल 103.36 रुपए प्रति लीटर मिल रही है। तो वहीं डीजल 95.44 रुपए में एक लीटर मिल रही है। देश के कुछ हिस्सों में डीजल भी सौ के पार जा चुका है।

बता दें कि इस महीने (जून) में पेट्रोल और डीजल के दाम 11वीं बार बढ़ाए गए हैं। जबकि पिछले महीने (मई) में इसमें 16 बार वृद्धि हुई थी। पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के परिणाम 2 मई को आए थे। उसके बाद 4 मई को पहली दफा तेल के दाम बढ़े थे। लेकिन उसके बाद से ही पेट्रोल और डीजल के दाम लगातार बढ़ रहे हैं।

विपक्ष कर रहा है विरोध:

तेल की महंगाई को लेकर देश की विपक्षी पार्टियां लगातार विरोध कर रही हैं। केंद्र सरकार से सवाल किए जा रहे हैं। कांग्रेस पार्टी ने पिछले ही दिनों देशभर में कई तेल पंपों पर धरना प्रदर्शन किया था। कांग्रेस नेता राहुल गांधी इसे लेकर नरेंद्र मोदी सरकार पर लगातार हमलावर रहे हैं। ट्विटर पर लगातार उन्होंने सरकार से सवाल किए हैं।

आज भी राहुल गांधी ने ट्विटर पर एक खबर साझा किया है। जिसमें दिखाया गया है कि कैसे सरकार ने आयकर और कॉरपोरेट टैक्स से ज्यादा कमाई पेट्रोल-डीजल पर लगाए गए टैक्स से की है। राहुल गांधी ने इसी के साथ लिखा है कि “टैक्स वसूली में PhD.”

हालांकि केंद्र सरकार में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमन ने अपने एक बयान में कहा था कि पेट्रोल और डीजल के दामों पर केंद्र सरकार का कोई नियंत्रण नहीं है। इनकी कीमतें बाजार और तेल कंपनियां तय करती हैं। जबकि पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र ने कहा है कि महामारी के समय में काम करने के लिए तेल की कीमतें बढ़ाई गई हैं।

वजह चाहे जो भी हो लेकिन पेट्रोल और डीजल की बढ़ती कीमतों में आम जनता झुलस रही है।

Related Articles

Leave a Comment