Latest News
Home Uncategorizedकृषि बड़ी खबर: एक फरवरी को किसान जाएंगे संसद भवन, किसान नेताओं का ऐलान

बड़ी खबर: एक फरवरी को किसान जाएंगे संसद भवन, किसान नेताओं का ऐलान

by Khabartakmedia

किसान नेताओं की ओर से सोमवार की शाम बड़ा ऐलान किया गया है। किसान संगठन अब अपने आंदोलन को तेज करने का मन बना चुके हैं। केंद्र सरकार से बातचीत में कोई रास्ता नहीं निकलने पर किसानों ने यह कदम उठाया है। आज किसानों ने घोषणा की है कि वे एक फरवरी को दिल्ली में संसद भवन तक जाएंगे। किसान दिल्ली के संसद भवन तक पैदल मार्च करेंगे।

किसान नेताओं दर्शन पाल

क्रांतिकारी किसान संगठन के दर्शन पाल ने आज शाम यह जानकारी दी है। उन्होंने कहा कि “एक फरवरी को किसान अलग अलग जगहों से संसद भवन जाएंगे। हम संसद तक पैदल मार्च करेंगे।” बता दें कि 26 जनवरी के मौके पर किसान गणतंत्र परेड होने वाला है। किसान गणतंत्र परेड के बाद यह बड़ी गतिविधि होगी किसानों की तरफ से। इससे पहले कल यानी गणतंत्र दिवस पर लाखों की संख्या में किसान दिल्ली में घुसेंगे। सिंघू बॉर्डर, अटारी बार्डर और गाजीपुर बॉर्डर से किसान अपने ट्रैक्टर के साथ दिल्ली जाएंगे। यह किसान आंदोलन का अब तक का सबसे बड़ा कार्यक्रम होगा। जब दिल्ली की सड़कें किसानों के ट्रैक्टर से भरी हुई दिखेगी।

आंदोलन तेज करने की तैयारी:


गौरतलब है कि भारत सरकार और किसान संगठनों के बीच लगभग दसियों दौर की वार्ता के बाद इस मुद्दे पर कोई नतीजा नहीं निकल सका। दिल्ली की सीमाओं पर किसान पिछले दो महीने से आंदोलन कर रहे हैं। अब तक 75 से अधिक किसानों की आंदोलन में मौत हो चुकी है। किसानों की मांग है कि केंद्र सरकार द्वारा लाए गए तीनों कृषि कानूनों को रद्द किया जाए। साथ ही न्यूनतम समर्थन मूल्य की संवैधानिक गारंटी भी किसान चाहते हैं। लेकिन नरेंद्र मोदी सरकार इस पर राजी नहीं हो रही है।

वार्ता के विफल होने पर अब किसान आंदोलन तेजी पकड़ रहा है। किसानों का स्पष्ट कहना है कि केंद्र सरकार जब तक उनकी मांग पूरी नहीं करती वे आंदोलन करते रहेंगे। किसान नेता राकेश टिकैत ने भी यही बात दोहराई है। उन्होंने कहा है कि “सरकार को भ्रम है कि हम वापस चले जाएंगे। जब तक कृषि कानूनों को खत्म नहीं किया जाएगा तब तक हम डटे रहेंगे।”

Related Articles

Leave a Comment