Latest News
Home ताजा खबर नेतन्याहू ने बताया कि कौन से देश हैं इजरायल के समर्थन में, नहीं लिया भारत का नाम?

नेतन्याहू ने बताया कि कौन से देश हैं इजरायल के समर्थन में, नहीं लिया भारत का नाम?

by Khabartakmedia

इजरायल और फिलिस्तीन के बीच पिछले 10 मई से जंग जारी है। इजरायली सेना और हमास के बीच युद्ध चल रहा है। जिससे दोनों ही देशों में भयानक मंजर देखने को मिल रही है। फिलिस्तीनी चरमपंथी संगठन हमास लगातार इजरायल के शहरों पर रॉकेट दाग रहा है। तो वहीं इजरायल भी अपने सैन्य ताकत का प्रदर्शन कर रहा है। फिलीस्तीन के गाजा पट्टी में इजरायल ने कोहराम मचा दिया है। गाजा पट्टी में कई बिल्डिंगों को इजरायल ने नेस्तनाबूद कर दिया है।

इजरायल और फिलिस्तीन की इस लड़ाई ने दुनिया को दो धड़ों में बांट दिया है। दुनिया के बड़े देश इजरायल के समर्थन में खड़े हैं। अमेरिका जैसे देश खुलेआम इजरायल का साथ दे रहे हैं। रविवार को इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने एक ट्वीट किया। नेतन्याहू ने इस ट्वीट इजरायल का साथ देने वाले देशों का राष्ट्रीय झंडा साझा किया है। नेतन्याहू ने अपने समर्थक देशों के झंडे के साथ लिखा है कि “इजरायल के साथ मजबूती से खड़े होने और आतंकवादी हमलों के खिलाफ आत्मरक्षा के हमारे अधिकार का समर्थन करने के लिए धन्यवाद।”

संयुक्त राज्य अमेरिका, अल्बानिया, ऑस्ट्रेलिया, ऑस्ट्रिया, बोस्निया, ब्राजील, बुल्गारिया, कनाडा, कोलंबिया, साइप्रस, चेक रिपब्लिक, जॉर्जिया, जर्मनी, ग्वाटेमाला, होंडुरास, हंगरी, इटली, लिथुआनिया, मोल्दोवा, नीदरलैंड, मेसेडोनिया, प्रेगवे, स्लोवेनिया, युक्रेन, उरुग्वे।

नेतन्याहू ने नहीं लिया भारत का नाम:

कुल 25 देशों को इजरायल के प्रधानमंत्री नेतन्याहू ने शुक्रिया जताया है। लेकिन इन सभी झंडो में कहीं भी भारत का तिरंगा नहीं दिखता है। क्योंकि भारत सरकार ने अब तक किसी भी देश को अपना समर्थन नहीं दिया है। आधिकारिक तौर पर अब तक भारत ने खुद को फिलिस्तीन या इजरायल के साथ खड़ा नहीं किया है। ये और बात है कि ट्विटर पर 10 मई के बाद से ही भारत में लोग इजरायल और फिलिस्तीन दोनों के समर्थन में खड़े हैं। पिछले पांच दिनों में हर रोज इस तरह के हैशटैग ट्रेंड हुए हैं। #StandWithIsrael #StandWithPalestine.

इजरायल और फिलिस्तीन की लड़ाई ने भारत को दो धड़ों में बांट दिया है। लोग अपनी राजनीतिक और वैचारिक सुविधा के मुताबिक किसी एक पाले के साथ खड़े हैं। इस समर्थन और विरोध में सबसे प्रमुख वजह बनी है धर्म। इजरायल के समर्थन की अधिकांश वजह उसका एक मुसलमान बहुल देश के साथ जंग है।

Related Articles

Leave a Comment