Latest News
Home पूर्वांचल की खबरवाराणसी नेताजी जयंती को मनाया गया पराक्रम दिवस के रूप में

नेताजी जयंती को मनाया गया पराक्रम दिवस के रूप में

by Khabartakmedia

हिंदू युवा वाहिनी लाल बहादुर शास्त्री मंडल के तत्वावधान में आदित्य शिक्षण संस्थान रामनगर में नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 125 वीं जयंती पराक्रम दिवस के तौर पर मनाया गया। इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि वाराणसी जिला मीडिया प्रभारी संदीप रावत एवं विशिष्ट अतिथि रामनगर संयोजक अर्जुन शर्मा रहे। कार्यक्रम में सभा पटल पर वक्ताओं ने अपने विचारों को रखा। विशिष्ट अतिथि अर्जुन शर्मा ने कहा कि नेताजी सुभाष चंद्र बोस भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के ऐसे राष्ट्रवादी नेता थे जो कि आजाद हिंद फौज की स्थापना की। उन्होंने अपने संगठन को भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के समय एक सेना के तौर पर इस स्थापित किया। नेताजी के भाषणों में आजादी की बात प्रमुखता से होती थी।

उन्होंने कहा था यह हमारा कर्तव्य है कि हम अपनी स्वतंत्रता का मोल अपने खून से चुकाएं। हमें अपने बलिदान और परिश्रम से जो आजादी मिलेगी हमारे अंदर उसकी रक्षा करने की ताकत होनी चाहिए। नेता जी का यह संदेश भारत के युवाओं को राष्ट्रवाद के तरफ ले जाने को दर्शाता है।
आज के युवाओं को नेताजी सुभाष चंद्र बोष के कहे हुए वचनों एवं उनके संदेशों पर चलना बहुत ही आवश्यक है कार्यक्रम मे कार्यकर्ताओं ने नेताजी को याद किया एवं पुष्प अर्पित कि इस कार्यक्रम में मुख्य रूप से रामनगर संयोजक अर्जुन शर्मा, नगर अध्यक्ष अखिलेश सिंह, महामंत्री मंगल सिंह, लाल बहादुर शास्त्री मण्डल संयोजक ऋषभ श्रीवास्तव, ज्ञानेंद्र प्रजापति, आरजू श्रीवास्तव, अभिषेक विश्वकर्मा, आकाश सिंह पटेल, सौरभ शर्मा, सागर सेठ, नितेश तिवारी, राजकुमार प्रजापति, राजकुमार गौड, अनमोल मिश्रा व अन्य कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

Related Articles

Leave a Comment