Latest News
Home ताजा खबर वाराणसी में बनकर तैयार हुआ 6 करोड़ का भाजपा कार्यालय, जेपी नड्डा ने किया उद्घाटन

वाराणसी में बनकर तैयार हुआ 6 करोड़ का भाजपा कार्यालय, जेपी नड्डा ने किया उद्घाटन

by Khabartakmedia

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के संसदीय क्षेत्र में भारतीय जनता पार्टी के हाईटेक कार्यालय का उद्घाटन हो गया है। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा इस मौके पर शनिवार को वाराणसी पहुंचे थे। ये विशाल और आधुनिक तकनीकी से लैस कार्यालय रोहनिया में मौजूद है। इसका शिलान्यास 2017 में उस समय के भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने की थी। आज जेपी नड्डा ने लाल फीता काटकर इस कार्यालय का औपचारिक उद्घाटन कर दिया। उनके साथ मौजूद उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह।

बता दें कि इस हाईटेक कार्यालय को बनाने में कुल छह करोड़ रुपए खर्च किए गए हैं। कार्यालय में कुल चार फ्लोर हैं। जिसमें मीटिंग हॉल, लाइब्रेरी व अन्य सुविधाएं उपलब्ध हैं। इसमें जिला स्तर के पदाधिकारियों, संगठन मंत्रियों के लिए कमरे बनाए गए हैं। मीडिया सेल के लिए भी इंतजाम किया गया है। जेपी नड्डा ने इस मौके पर भाजपा कार्यकर्ताओं को संबोधित भी किया। इस दौरान उन्होंने बताया कि पूरे प्रदेश में भाजपा के कुल 80 कार्यालय बन रहे हैं। जिनमें से 53 बन कर तैयार हैं।

भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा

विपक्ष पर बरसे:

जेपी नड्डा ने अपने भाषण में काशी की धरती को प्रणाम किया। साथ ही किसानों को साधने की कोशिश भी की। उन्होंने कहा कि “प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के लिए किसान प्राथमिकता हैं।” नड्डा ने कहा कि “सबका साथ सबका विकास हमारा लक्ष्य है। भाजपा ने सत्ता में आने के बाद देश तस्वीर बदली है। आज दुनिया में पीएम मोदी को गौरव प्राप्त है।” जेपी नड्डा ने विपक्ष को निशाना बनाते हुए कहा कि “जिन्हें भाजपा में शामिल होने का मौका मिला है वो सौभाग्यशाली हैं। आज सभी राष्ट्रीय पार्टियां क्षेत्रीय पार्टियां बन गई हैं।” “कांग्रेस समेत सभी दल वंशवाद की राजनीति करते हैं। लेकिन भाजपा सबको एक परिवार मानती है।” जेपी नड्डा ने कहा।

गौरतलब है कि 2022 में उत्तर प्रदेश विधानसभा के चुनाव होने हैं। इसे लेकर भाजपा ने अभी से ही तैयारियां शुरू कर दी हैं। भाजपा अपने सबसे बड़ी ताकत यानी कि संगठन को मजबूत बनाने में जुटी हुई है। ताकि आगामी चुनाव में एक बार फिर से भाजपा को जीत मिल सके और पार्टी सत्ता में वापसी कर सके।

Related Articles

Leave a Comment