Latest News
Home चुनावी हलचल CAA विरोध के लिए UAPA झेल रहे अखिल गोगोई ने असम में मारी बाजी, पूरे चुनाव थे जेल में बंद!

CAA विरोध के लिए UAPA झेल रहे अखिल गोगोई ने असम में मारी बाजी, पूरे चुनाव थे जेल में बंद!

by Khabartakmedia

रविवार को चार राज्यों और एक केंद्र शासित प्रदेश के विधानसभा चुनाव की मतगणना चल रही है। पश्चिम बंगाल, असम, केरल, तमिलनाडु और पुडुचेरी में आज चुनाव का परिणाम आना है। अब तक हर राज्य में लगभग स्थिति साफ हो चुकी है। हालांकि चुनाव आयोग की ओर से आधिकारिक घोषणा होनी बाकी है। क्योंकि वोटों की गिनती अभी भी जारी है। हालांकि मतों की गिनती अब अपने अंतिम पड़ाव की ओर है। इसलिए चुनाव के नतीजों में कोई बड़ा उलटफेर होता नहीं दिख रहा है।

असम में भारतीय जनता पार्टी की सरकार एक बार फिर बनती हुई दिख रही है। भाजपा बड़े अंतर से कांग्रेस गठबंधन से आगे चल रही है। लेकिन इन सब के बीच एक उम्मीदवार के जीतने की चर्चा खूब हो रही है। उस प्रत्याशी का नाम अखिल गोगोई। 45 वर्ष के सामाजिक कार्यकर्ता अखिल गोगोई असम में सिबसागर सीट से चुनाव लड़ रहे थे। उनके सामने भाजपा की ओर से सुरभि रजकोंवारी चुनावी मैदान में थीं। अखिल गोगोई ने इस सीट से जीत दर्ज कर ली है। हालांकि चुनाव आयोग की ओर से अंतिम घोषणा किया जाना बाकी है।

खास क्यों है जीत?

अखिल गोगोई की जीत ख़ास मानी जा रही है। इसकी कई वजहें हैं। अखिल गोगोई 2019 में तब सुर्खियों में आए थे जब नागरिकता संशोधन कानून का विरोध शुरू हुआ था। असम में अखिल गोगोई ने CAA विरोधी आंदोलन में सक्रिय भूमिका निभाई। बल्कि एक तरह से उन्होंने इसका नेतृत्व भी किया। लेकिन दिसंबर, 2019 में अखिल गोगोई के खिलाफ असम के डिब्रूगढ़ में एफआईआर दर्ज किया गया। उन पर CAA आंदोलन के दौरान हिंसा भड़काने का आरोप लगा। इसी दौरान अखिल गोगोई पर भाजपा सरकार ने UAPA भी लगा दिया था।

दिसंबर, 2019 में अखिल गोगोई को गिरफ्तार कर लिया गया। इसके बाद से अब तक अखिल गोगोई जेल में बंद हैं। उन्होंने जेल से ही चुनाव लड़ने का फैसला लिया और फिर सिबसागर सीट अपना पर्चा भरा। पूरे चुनाव के दौरान अखिल गोगोई जेल में बंद रहे। एक भी दिन प्रचार नहीं कर पाए। हालांकि उनके समर्थकों ने उनके लिए प्रचार किया। बगैर एक भी दिन अपने चुनावी क्षेत्र का दौरा किए अखिल गोगोई ने भाजपा की प्रत्याशी को हरा दिया।

फिलहाल अखिल गोगोई गुवाहाटी मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल में भर्ती हैं। जहां उनका इलाज चल रहा है। इसी बात को लेकर अखिल गोगोई की जीत पर चर्चा हो रही है।

Related Articles

Leave a Comment