Latest News
Home शिक्षा जातिगत भेदभाव का आरोप लगाकर IIT मद्रास के प्रोफेसर ने दिया इस्तीफा, क्या है पूरा मामला?

जातिगत भेदभाव का आरोप लगाकर IIT मद्रास के प्रोफेसर ने दिया इस्तीफा, क्या है पूरा मामला?

by
IIT Madras

IIT मद्रास के एक प्रोफेसर ने गुरुवार यानी 1 जुलाई को अपना इस्तीफा दे दिया। इस्तीफा सौंपने वाले प्रोफेसर का नाम विनीत पी. वितील है। प्रो. विनीत IIT मद्रास के मानविकी संकाय और समाज विज्ञान संकाय में असिस्टेंट प्रोफेसर के पद पर कार्यरत थे। उन्होंने संस्थान में अपने साथ हुए जातिगत भेदभाव का आरोप लगाते हुए इस्तीफा दे दिया है।

प्रो. विनीत मूल रूप से केरल के निवासी हैं। IIT मद्रास के मानविकी संकाय और समाज विज्ञान संकाय में दो सालों से पढ़ा रहे हैं। प्रो. विनीत ने आरोप लगाया है कि संस्थान के कुछ लोगों ने उनके साथ जातिगत भेदभाव किया है। इसी वजह से वो अपना इस्तीफा सौंप रहे हैं।

इस मामले में IIT मद्रास का एक बयान द प्रिंट में छपा है। संस्थान ने कहा है कि “इस ईमेल पर संस्थान की कोई प्रतिक्रिया नहीं है। कर्मचारियों या शिक्षकों से मिली किसी भी शिकायत पर शिकायत निवारण की तय प्रक्रिया के जरिए तत्काल कार्रवाई की जाती है।”

सोशल मीडिया पर छिड़ी बहस:

विनीत ने जो मेल अपने संकाय में भेजी है वो सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। इस मामले ने तूल पकड़ लिया है। लोग जातिगत भेदभाव को लेकर बहस कर रहे हैं। इस मौके पर लोगों ने IIT मद्रास का ही एक पुराना मामला फिर से सामने ला दिया है।

2019 में इसी संस्थान की छात्रा फातिमा लतीफ ने हॉस्टल में ही आत्महत्या कर ली थी। फातिमा लतीफ ने धार्मिक भेदभाव को लेकर आरोप लगाया था। फातिमा लतीफ की मृत्यु के मामले में सीबीआई जांच चल रही है।

मदुरै के सांसद सु वेंकटेसन ने इस मामले पर एक ट्वीट किया है। उन्होंने अपने ट्वीट में प्रो. विनीत के इस्तीफे की ईमेल की फोटो और IIT मद्रास की फोटो शेयर की है। उन्होंने कहा है कि राष्ट्रीय पिछड़ा वर्ग आयोग/SC &ST आयोग को इस मामले की तत्काल जांच करनी चाहिए।

Related Articles

Leave a Comment