Latest News
Home कोरोना वायरस भारत में कभी नहीं मिले अब तक इतने मरीज, क्या हैं कोरोना से बचने के जरूरी उपाय?

भारत में कभी नहीं मिले अब तक इतने मरीज, क्या हैं कोरोना से बचने के जरूरी उपाय?

by Khabartakmedia

Corona Virus Update of India. भारत में कोविड-19 महामारी अब एक नया रूप अख्तियार करने लगी है। कोरोना संक्रमण की यह नई लहर हर रिकॉर्ड तोड़ रही है। सभी आंकड़े नए आंकड़ों के सामने छोटे साबित हो रहे हैं। नए मामलों से लेकर मरने वालों तक की संख्या लंबी कूद लगा रही है। ये हाल तो सरकारी आंकड़ों की है। हकीकत इससे ज्यादा भयावह है। सच्ची संख्या ज्यादा डरावने हैं, जो किसी न किसी कागज में दब जा रही है। या फिर किसी कागज में दर्ज ही नहीं की जा रही है।

भारत में कल कोरोना संक्रमण के सर्वाधिक नए मरीज मिले थे। लेकिन शुक्रवार को आए ताजा आंकड़ों ने कल को पछाड़ दिया है। आज एक नई लकीर खींच दी गई है। पिछले चौबीस घंटे में देश में 3,32,730 कोरोना के नए मामले सामने आए हैं। इतने मरीज अब तक कभी नहीं मिले थे। संक्रमण की चपेट में आने से एक बार फिर दो हजार से अधिक लोगों की जान गई है। पिछले चौबीस घंटे में देश में 2,263 लोगों की मौत हुई है। बता दें कि इस एक दिन में 1,93,279 लोगों को अस्पताल से डिस्चार्ज किया गया है। भारत सरकार के स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार देश में अब सक्रिय कोविड संक्रमितों की संख्या 24,28,616 हो चुकी है।

साधारण लेकिन असरदार नुस्खे:

गौरतलब है कि कोरोना वायरस का संक्रमण का भयवाह रूप से फैल चुका है। किसी भी व्यक्ति की एक चूक उसे संक्रमण का शिकार बना देगी। इसलिए जरूरी है कि बहुत जरूरी काम ना होने पर घर से बाहर ना निकलें। एकदम हद से ज्यादा जरूरत के काम के लिए ही घर से बाहर जाएं। घर से बाहर बगैर मास्क पहने जाने की गलती ना करें। मास्क ठीक से पहनें। कुछ इस तरह की नाक और मुंह पूरी तरह से ढकी रहे। किसी भी दूसरे व्यक्ति से कम से कम 6 फीट और ज्यादा से ज्यादा जितनी हो सके उतनी दूरी बनाए रखें।

सेनेटाइजर को ही असली साथी समझें। सेनेटाइजर से खूब हाथ मिलाएं। इन छोटी छोटी बातों का ख्याल नहीं रखेंगे तो कोरोना टेस्ट, अस्पताल में बेड, ऑक्सीजन, वेंटिलेटर, प्लाज्मा, रेमेडेसिविर जैसी बड़ी बातों का ख्याल रखना हद से ज्यादा मुश्किल हो जाएगा। और राज्य सरकार हो या फिर केंद्र सरकार उसे इन बातों का ख्याल है या नहीं? इस सवाल का जवाब आप जानते हैं।

Related Articles

Leave a Comment