Latest News
Home कोरोना वायरस जिलाधिकारी ने किया है साफ मना, पूरे महीने मत आइए वाराणसी!

जिलाधिकारी ने किया है साफ मना, पूरे महीने मत आइए वाराणसी!

by Khabartakmedia

वाराणसी में कोविड-19 का संक्रमण अपने सबसे खराब रूप में है। ये कहना तो संभव नहीं है। लेकिन इतना जरूर कहा जा सकता है कि कोरोना संक्रमण इस वक्त खौफनाक अवतार धारण किए हुए है। इसकी रफ्तार पर काबू पाना फिलहाल मुश्किल का सबब बना हुआ है। कोरोना संक्रमण के दूसरे लहर में वाराणसी में हर रोज नए मरीजों की संख्या हजार के पार पहुंचने लगी है। ये आंकड़े तब के हैं जब कि जांच और उसकी रिपोर्ट की गति धीमी है।

जिला प्रशासन ने कोविड से निपटने के लिए अलग अलग तरह के नियम बनाए हैं। रात्रि कर्फ़्यू जैसे नियम पहले से ही लागू कर दिए गए थे। शिक्षण संस्थान पूरी तरह से बंद कर दिए गए हैं। अब मंदिरों में प्रवेश पर भी कुछ पाबंदियां लगाई गई हैं। हालांकि इन्हें अब भी पूरी तरह बंद नहीं किया गया है। इन तमाम एहतियातों के बावजूद जिले में आज भी 1400 से ज्यादा कोविड के नए मरीज मिले हैं।

अब वाराणसी जिले के हालात एकदम नाजुक हो चले हैं। इसे देखते हुए जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा की ओर से आज एक दिशा निर्देश जारी की गई है। जो कि वाराणसी आने वाले लोगों से जुड़ी हुई है। जिलाधिकारी ने स्पष्ट शब्दों में कहा है कि कोई भी व्यक्ति वाराणसी में पूरे अप्रैल महीने मत आए। क्योंकि जिले कोरोना का खतरा बढ़ गया है। एक ट्वीट करते हुए जिलाधिकारी ने लिखा है कि “देश विदेश से वाराणसी आने का कार्यक्रम बनाने वाले सभी व्यक्तियों और यात्रियों से अपील है कि वाराणसी में अभूतपूर्व कोविड संक्रमण फैल जाने की वजह से अप्रैल के पूरे महीने में वाराणसी ना आये।”

साथ ही जिलाधिकारी ने यह भी कहा है कि “बाहरी प्रदेशों से आने वाले यात्रियों को शहर में ठहरने के लिए भी शीघ्र कोविड नेगेटिव रिपोर्ट की व्यवस्था लागू की जाएगी।” बता दें कि मंदिरों में प्रवेश के लिए कोरोना जांच की रिपोर्ट दिखानी अनिवार्य कर दी गई है। साथ ही यह शर्त है कि जांच कि रिपोर्ट 72 घंटे पुरानी होनी चाहिए।

विज्ञापन

Related Articles

Leave a Comment