Latest News
Home कोरोना वायरस कोरोना के नए मामले कम, मौत का आंकड़ा अब भी तीन हजार से अधिक

कोरोना के नए मामले कम, मौत का आंकड़ा अब भी तीन हजार से अधिक

by
corona virus

Corona Virus India Update. भारत में कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर शांत होने लगी है। देश में नए संक्रमितों की संख्या लगातार घट रही है। रोज आने वाले कोरोना के नए मामले एक लाख से भी कम हो चुके हैं। लेकिन कोरोना से हो रही मृत्यु की संख्या अब भी कम नहीं हुई है। भारत में लगातार हर रोज तीन हजार अधिक लोग कोरोना वायरस के चलते अपनी जान गंवा रहे हैं।

पिछले चौबीस घंटे में देश में 80,834 नए कोविड -19 मरीज मिले हैं। लेकिन इस दौरान 3303 लोगों की मौत भी हो गई है। देश में जब कोरोना महामारी की दूसरी लहर अपने चरम पर थी तब आए दिन तीन हजार से अधिक लोगों की जान जा रही थी। लेकिन अब कहा जा रहा है कि दूसरी लहर थमने लगी है। तब भी मौत के आंकड़ों में नरमी देखने को नहीं मिल रही है।

बेअसर हैं ये आंकड़े:

बता दें कि ये आंकड़े सरकार द्वारा जारी किए गए हैं। जिन पर दूसरी लहर के दौरान गंभीर सवाल उठे हैं। कई मीडिया रिपोर्ट्स में ये खुलासा भी हुआ है कि सरकार मौत के आंकड़े छुपा रही है। दैनिक भास्कर अख़बार पिछले एक महीने में ऐसी ही खबरों से भरा पड़ा है। साथ कई अन्य जिला स्तरीय और राज्य स्तरीय आंकड़ों के जरिए सरकारी आंकड़ों का खेल बेपर्दा हुआ है।

गौरतलब है कि इस वक्त माहौल बन चुका है कि कोरोना खत्म हो गया है। ये ठीक उसी तरह की धारणा है जैसी कि पहली लहर के बाद बनी थी। मीडिया से लेकर आम लोगों तक में कोरोना के आंकड़ों को लेकर अब कोई दिलचस्पी नहीं रह गई है। तभी हर रोज तीन हजार से अधिक मौतें भी चर्चा से गायब हो चुकी हैं।

सवाल ये है कि जब नए मरीजों की संख्या एक लाख से भी कम चुकी है तब भी लोगों की जान क्यों नहीं बच पा रही है? अभी अस्पतालों में वैसी भीड़भाड़ भी नहीं रही जितनी कि कुछ हफ्ते पहले तक थी! केंद्र सरकार का दावा है कि उसने स्थिति को नियंत्रित कर लिया है। दवा से लेकर ऑक्सीजन तक की व्यवस्था कर ली गई है। अस्पतालों की सुविधा पुख्ता हो गई है। लेकिन इन सब के बावजूद लोग इतनी बड़ी संख्या में कैसे मर रहे हैं? इस सवाल से सरकार ने पहले ही मुंह फेर ली है। सरकार अब घोषणाओं के मूड में आ चुकी है। इसलिए भी इस सवाल की ओर उसका ध्यान नहीं है।

Related Articles

Leave a Comment