Latest News
Home कोरोना वायरस एक दिन में एक लाख पार, कोविड का खतरा पहले से ज्यादा!

एक दिन में एक लाख पार, कोविड का खतरा पहले से ज्यादा!

by Khabartakmedia

एक हफ्ते के भीतर ही भारत में कोरोना के संक्रमण ने एक लाख तक की यात्रा तय कर ली है। कुछ दिन पहले तक ये 10-20 हजार के आसपास चल रहा था। लेकिन दोबारा ये संक्रमण दिन दूना रात चौगुना की रफ्तार से आगे बढ़ी है। अब हर दिन एक नया रिकॉर्डतोड़ आंकड़ा सामने आ जाता है। हर रोज पहले के आंकड़े बौने साबित हो जाते हैं। सोमवार को भी ऐसा ही हुआ। 2021 में अब तक के सबसे ज्यादा कोरोना मरीज मिले हैं।

भारत में पिछले चौबीस घंटे में कोविड-19 से संक्रमित 1,03,558 लोग सामने आए हैं। ये संख्या बेहद ख़तरनाक संकेत दे रही है। ये आंकड़ा तब और चिंताजनक हो जाता है जब इसी एक दिन में अस्पताल से डिस्चार्ज होने वालों की संख्या देखी जाती है। देश में पिछले चौबीस घंटे में 52,847 लोगों को अस्पताल से ठीक होने के बाद छुट्टी मिली है। यानी कि संक्रमितों का आधा। बता दें कि इस दौरान 478 लोगों ने अपनी जान गंवा दी है। जिसके बाद मरने वालों की कुल तादाद 1,65,101 हो गई है। सक्रिय मामलों में भी उछाल देखने को मिला है। सक्रिय मरीजों की संख्या सात लाख को पार करके 7,41,830 तक पहुंच गई है।

बीते कुछ महीनों में और खासकर कोविड वैक्सीन आने के बाद लोगों ने खूब लापरवाही बरती है। ऐसा नहीं है कि ये डरावने आंकड़े लोगों को सावधान कर रहे हैं। अब भी हर जगह खूब भीड़ जुट रही है। घूमने वाले जगहों पर लोग मजे से जुटान कर रहे हैं। जिसकी कीमत बहुत महंगी चुकानी पड़ सकती है। देश के कई राज्यों ने अलग अलग तरीके से तालाबंदी करनी शुरू कर दी है। कहीं स्कूलों को बंद किया जा रहा है तो कहीं सामूहिक कार्यक्रम पर रोक लगाया जा रहा है। महाराष्ट्र की सरकार ने राज्य में मिनी लॉक डाउन लगाया है। उत्तर प्रदेश में स्कूल बंद किए जा रहे हैं। हालांकि जिन राज्यों में विधानसभा चुनाव हैं वहां लाखों लोगों की भीड़ जुटाकर रैली करने और भाषणबाजी करने की खुली छूट गई।

Related Articles

Leave a Comment