Latest News
Home राजनीति पेट्रोल-डीजल की महंगाई के खिलाफ सड़क पर उतरी कांग्रेस, दिल्ली से वाराणसी तक धरना प्रदर्शन!

पेट्रोल-डीजल की महंगाई के खिलाफ सड़क पर उतरी कांग्रेस, दिल्ली से वाराणसी तक धरना प्रदर्शन!

by Khabartakmedia
KC Venugopa and other congress workers

Congress Protest Against Petrol-Diesel Price Hike.पेट्रोल और डीजल के दाम आसमान पर चढ़ चुके हैं। इसके विरोध में शुक्रवार यानी 11 जून को कांग्रेस सड़क पर उतरी है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी से लेकर दिल्ली तक कांग्रेस कार्यकर्ता आज धरना प्रदर्शन कर रहे हैं।

पेट्रोल और डीजल की बढ़ती कीमतों के विरोध में यह धरना हो रहा है। कांग्रेसी नेता और कार्यकर्ता देशभर के अलग अलग जिलों के पेट्रोल पंप पर धरना दे रहे हैं।

दिल्ली में प्रदर्शन:

राजधानी दिल्ली में कांग्रेस के कई बड़े नेता भी आज सड़कों पर दिखाई दिए। दिल्ली के अलग अलग पेट्रोल पंप पर ये नेता भाजपा सरकार के खिलाफ नारे लगाते दिखे। हाथों में तख्तियां लिए। कहीं टमटम (घोड़ा गाड़ी) पर बैठे हुए।

कांग्रेस पार्टी के महासचिव और राज्यसभा सांसद केसी वेणुगोपाल दिल्ली गेट पर प्रदर्शन करते नजर आए। यहां उनके साथ कई कांग्रेसी कार्यकर्ता भी मौजूद रहे। हर किसी के हाथ में एक तख्ती थी। जिसपर तेल की महंगाई और सरकार के खिलाफ नारे लिखे हुए थे। इनमें से एक पोस्टर पर लिखा था, “जब से भाजपा आई है, महंगाई लाई है।”

इसी तरह का एक प्रदर्शन यूथ कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने भी किया। दिल्ली के ही एक पेट्रोल पंप पर युवा कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव के नेतृत्व में प्रदर्शन हुआ। युवा कांग्रेस के इस प्रदर्शन में एक कार्यकर्ता के हाथ में एक पोस्टर दिखा। जिसपर लिखा था, “पेट्रोल डीजल के दाम आसमान छू रहे हैं और मोदी जी सो रहे हैं।”

उत्तर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष हिरासत में:

उत्तर प्रदेश के अलग अलग जिलों में भी कांग्रेस का यह धरना प्रदर्शन देखने को मिला है। उत्तर प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने एक पेट्रोल पंप के बाहर प्रदर्शन किया। उन्होंने अपने गले में एक पोस्टर लटका रखी थी। जिस पर “अक्कड़ बक्कड़ बंबे बोल, डीजल नब्बे पेट्रोल सौ, सौ में लगा धागा सिलेंडर उछल के भागा” का नारा लिखा हुआ था।

बता दें कि अजय कुमार लल्लू को प्रदर्शन करने से पहले ही पुलिस उनके घर पहुंच गई थी। अजय लल्लू को घर पर ही रोक दिया गया था। हालांकि फिर वो एक पेट्रोल पंप पर पहुंच गए। प्रदर्शन के दौरान पुलिस ने अजय लल्लू को हिरासत में ले लिया।

पीएम के संसदीय क्षेत्र का हाल:

भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का संसदीय क्षेत्र है वाराणसी। वाराणसी जिले में भी पेट्रोल और डीजल की महंगाई के खिलाफ धरना प्रदर्शन हुआ। यहां कांग्रेस, यूथ कांग्रेस और एनएसयूआई के कार्यकर्ताओं ने एक पेट्रोल पंप पर धरना दिया। कार्यकर्ताओं ने एक मोटरसाइकिल भी गिरा रखी थी। इसी के पीछे बैठकर ये कार्यकर्ता धरना दे रहे थे। यहां यूथ कांग्रेस के वाराणसी जिलाध्यक्ष विश्वनाथ कुंवर और एनएसयूआई के वाराणसी जिलाध्यक्ष ऋषभ पांडेय मौजूद रहे।

वाराणसी के सिगरा स्थित एक पेट्रोल पंप पर भी कुछ कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन किया। यहां कांग्रेस के रिसर्च विभाग के चेयरमैन गौरव कपूर के नेतृत्व में प्रदर्शन हुआ। गौरव कपूर इस दौरान एक पोस्टर थामे हुए थे। जिसपर लिखा था, “महंगाई डायन खाए जात है।” ये वही नारा है जो अक्सर 2014 के पहले भाजपा महंगाई बढ़ने पर लगाया करती थी। उस समय भाजपा विपक्षी पार्टी थी और कांग्रेस की सरकार थी।

कांग्रेस के रिसर्च विभाग के चेयरमैन गौरव कपूर (सफेद कुर्ते में)

तेल के दाम में बेतहाशा वृद्धि:

गौरतलब है कि पेट्रोल की कीमत सौ के पार जा चुकी है। जबकि डीजल नब्बे रुपए प्रति लीटर का हिसाब लांघ चुकी है। महामारी के दौर में भी इस कदर महंगाई से आम लोगों की कमर टूट रही है। कांग्रेस और अन्य विपक्षी दलों ने लगातार महंगाई का सवाल उठाया है। लेकिन अब तक ये आवाज सिर्फ सोशल मीडिया पर ही सुनाई दे रही थी।

हालांकि आज कांग्रेस ने देशभर में सड़कों पर उतर कर महंगाई का मुद्दा उठाया है। कांग्रेस ने मांग की है कि सरकार तुरंत पेट्रोल और डीजल की कीमतों पर लगाम लगाए। क्योंकि इससे जनता पूरी तरह त्रस्त हो चुकी है। केंद्र में बैठी भाजपा सरकार के मंत्री कई बार ये बयान देते रहे हैं। सबसे हालिया बयान वित्त मंत्री निर्मला सीतारमन का है। उन्होंने कहा था कि “तेल के दामों पर केंद्र सरकार का कोई काबू नहीं है। तेल की कीमत निजी कंपनियां तय करती हैं। इसलिए सरकार कुछ नहीं कर सकती।”

Related Articles

Leave a Comment