Latest News
Home अपराध लखनऊ में भाजपा सांसद के बेटे को मारी गोली, सीएम योगी ने कहा बंगाल में “गुंडे जान की भीख मांगेंगे”

लखनऊ में भाजपा सांसद के बेटे को मारी गोली, सीएम योगी ने कहा बंगाल में “गुंडे जान की भीख मांगेंगे”

by Khabartakmedia
Yogi Adityanath

उत्तर प्रदेश की सुबह अपराध के खबरों के साथ ही होती है। कोई एक दिन भी बाज नहीं जाता है। प्रदेश के किसी न किसी इलाके में हत्या, दुष्कर्म, अगवा करने की वारदात सामने आ ही जाती है। बुधवार की सुबह भी ऐसी ही है। आज राज्य में एक सांसद के बेटे को कुछ बदमाशों ने गोली मार दी। मामला उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ का है। गोली लगने के बाद उसे तुरंत अस्पताल ले जाया गया। जहां उसका इलाज चल रहा है। फिलहाल स्थिति काबू में है।

पीड़ित लड़के का नाम आयुष (30 वर्ष) है। आयुष के पिता कौशल किशोर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के सांसद हैं। कौशल किशोर ने मीडिया को बताया कि “आयुष अपने साले के साथ टहलने निकला था। तभी कुछ लोग बाइक से आए। तब आयुष भागने लगा। तभी बदमाशों ने गोली चला दी।” हालांकि आयुष की जान बच गई है। सूचना चलने की खबर मिलते ही पुलिस अस्पताल पहुंची। पुलिस ने बताया है कि सांसद कौशल किशोर ने अब तक कोई तहरीर नहीं है। अगर उनकी ओर से तहरीर दी जाती है तो पुलिस कार्रवाई करेगी।

बंगाल की कानून व्यवस्था पर बोले योगी आदित्यनाथ:

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अपने कार्यकाल के शुरू होने के साथ ही कानून व्यवस्था को लेकर बड़े दावे करते रहे हैं। योगी आदित्यनाथ अक्सर अपने भाषणों में उत्तर प्रदेश में अपराध के खत्म होने और कानून का राज होने की बात कहते हैं। जबकि आंकड़ों में ऐसा कोई मंजर दिखाई नहीं देता है। राज्य में अपराध अपने चरम पर पहुंच चुकी है। ऐसा लगता है कि गुंडे बदमाशों को पुलिस का कोई डर नहीं है। सरेआम हर तरह के अपराध को यहां अंजाम दिया जा रहा है। लेकिन योगी आदित्यनाथ ने उत्तर प्रदेश की चौपट कानून व्यवस्था पर चुप्पी साध रखी है।

हालांकि योगी आदित्यनाथ ने बंगाल में कानून व्यवस्था पुख्ता करने का दावा जरूर किया है। मंगलवार को अपने एक ट्वीट में योगी आदित्यनाथ लिखते हैं कि “आगामी 2 मई के बाद जब भाजपा की सरकार बंगाल में बनेगी तो गुंडागर्दी और अराजकता फैलाने वाले गुंडे अपनी जान की भीख मांगते हुए, गले में तख्ती लटकाकर घूमेंगे।”

कुछ इसी तरह की आक्रामक भाषा का इस्तेमाल योगी आदित्यनाथ 2017 से ही उत्तर प्रदेश के लिए भी करते रहे हैं। लेकिन ये वादा कभी जमीन पर नहीं उतर पाया। देशभर में अपराध के मामले उत्तर प्रदेश शीर्ष पर बना हुआ है। लेकिन क्या यूपी में “गुंडागर्दी और अराजकता फैलाने वाले गुंडे जान की भीख मांगते हुए नजर आए?” उत्तर प्रदेश में भाजपा की सरकार 2017 में बनी थी। लेकिन क्या इन चार सालों में अपराधी अपने गले में तख्ती लटकाकर घूमते दिखे?” इसके बजाए राज्य में बिकरू कांड और हाथरस जैसी घटनाएं देखने को मिली।

Related Articles

Leave a Comment