Latest News
Home चुनावी हलचल पश्चिम बंगाल समेत पांच राज्यों में चुनाव की तारीखों का ऐलान, जानें पूरी जानकारी

पश्चिम बंगाल समेत पांच राज्यों में चुनाव की तारीखों का ऐलान, जानें पूरी जानकारी

by Khabartakmedia

शुक्रवार को मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव की तारीखों की घोषणा की। चुनाव आयोग ने आज शाम एक प्रेस कांफ्रेंस का आयोजन किया। जहां मुख्य चुनाव आयुक्त ने इन पांच राज्यों के चुनावी तिथि को सिलसिलेवार ढंग से बताया। मतदान अगले महीने 27 मार्च से शुरू होंगे और 29 अप्रैल तक चलेंगे। पांचों राज्यों में मतगणना 2 मई को होगी। इसी दिन पता चलेगा कि किस राज्य में कौन सी राजनीतिक दल सत्ता पर काबिज होगी।

इन पांच राज्यों में पश्चिम बंगाल, पुडुचेरी, तमिलनाडु केरल और असम शामिल हैं। असम में विधानसभा की 126 सीटों के लिए तीन चरणों में मतदान कराए जाएंगे। पहले चरण का मतदान 27 मार्च को, दूसरे चरण की वोटिंग 1 अप्रैल को होगी। जबकि 6 अप्रैल को तीसरे चरण में मत डाले जाएंगे। मुख्य चुनाव आयुक्त ने बताया कि असम में 2016 के विधानसभा चुनावों में 24,890 मतदान केंद्र थे। लेकिन 2021 के चुनाव में कुल 33,350 चुनाव केंद्र होंगे।

केरल में विधानसभा का चुनाव एक ही चरण में पूरा हो जाएगा। केरल विधानसभा में कुल 140 सीटें हैं। यहां 6 अप्रैल को मतदान होंगे। मतगणना 2 मई को होगी। सुनील अरोड़ा ने मतदान केंद्रों की संख्या बताते हुए कहा कि इससे पहले के चुनाव में केरल में 21,498 बूथ थे। जो कि अब 40,771 कर दिए जाएंगे।
इसके साथ ही तमिलनाडु में भी 6 अप्रैल को ही चुनाव होंगे। यहां भी मतदान एक ही चरण में कराई जाएगी। तमिलनाडु में विधानसभा के 234 सीटों पर वोटिंग होनी है। चुनाव परिणाम 2 मई को सामने आएंगे। मुख्य चुनाव आयुक्त के मुताबिक 2016 के तमिलनाडु विधानसभा चुनाव में कुल मतदान केन्द्र 66,007 थे। जबकि 2021 में यह संख्या 88,936 हो जाएगी।

मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा

पुडुचेरी में भी इस साल विधानसभा के चुनाव होने वाले हैं। बता दें कि फिलहाल पुडुचेरी में राष्ट्रपति शासन लागू है। क्योंकि हाल ही में पुडुचेरी की कांग्रेस सरकार गिर गई है। यहां 6 अप्रैल को एक चरण में चुनाव होगा। पुडुचेरी में कुल 33 सीटों पर मतदान होंगे। मतगणना 2 मई को होगी।

पश्चिम बंगाल का हाई वोल्टेज चुनाव:

पश्चिम बंगाल, जहां विधानसभा चुनाव की गर्माहट पिछले कुछ महीनों से ही बढ़ी हुई है। इस राज्य का चुनाव सबसे दिलचस्प होने वाला है। हर कोई इस राज्य पर निगाहें जमाए बैठा है। चुनाव के तारीखों का ऐलान होने से पहले ही बंगाल में सियासी उठापटक चालू है। बता दें कि पश्चिम बंगाल में विधानसभा के चुनाव कुल आठ चरणों में कराए जाएंगे। पहले चरण में मतदान 27 मार्च को होगा। 1 अप्रैल को दूसरा चरण, 6 अप्रैल को तीसरा चरण, 10 अप्रैल को चौथा चरण, 17 अप्रैल को पांचवा चरण, 22 अप्रैल को छठा चरण और 26 अप्रैल को सातवें चरण के लिए मतदान होगा। आखिरी चरण में 29 अप्रैल को वोटिंग होगी। गौरतलब है कि पश्चिम बंगाल में विधानसभा के कुल 294 सीटें हैं। यहां भी मतदान केंद्रों की संख्या में इजाफा हुआ है। 2016 के 77,413 के मुकाबले इस साल 1,01,916 चुनाव केंद्र होंगे।

Related Articles

Leave a Comment