Latest News
Home ताजा खबर CAA किसी समुदाय के खिलाफ नहीं, मुसलमानों को गुमराह किया गया: RSS प्रमुख मोहन भागवत

CAA किसी समुदाय के खिलाफ नहीं, मुसलमानों को गुमराह किया गया: RSS प्रमुख मोहन भागवत

by Khabartakmedia

रविवार को नागपुर में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत ने दशहरा रैली को संबोधित किया। मोहन भागवत ने इस रैली में देश की कई मुद्दों पर भाषण दिया। कोविड-19 महामारी के खिलाफ लड़ाई में भारत सरकार के कामों की तारीफ करते हुए मोहन भागवत ने कहा कि भारत में इस महामारी का प्रभाव कम है क्योंकि सरकार ने महामारी से निपटने के लिए उचित कदम उठाए। मोहन भागवत ने आगे कहा कि महामारी की वजह से नए रोजगार के मौके पैदा करना एक चुनौती है।
मोहन भागवत ने अपने भाषण में अयोध्या में बन रहे राम मंदिर का जिक्र करते हुए कहा कि देश ने राम मंदिर निर्माण के फैसले को धैर्य और समझदारी के साथ स्वीकार किया। साथ ही भागवत ने दशहरा रैली को संबोधित करते हुए सीएए पर भी अपनी बात कही। मोहन भागवत ने कहा कि सीएए किसी समुदाय के खिलाफ नहीं है। लेकिन कुछ लोगों ने मुसलमानों को गुमराह किया की ये कानून उनकी आबादी को प्रतिबंधित करने के लिए बनाई गई है।

RSS प्रमुख मोहन भागवत (फोटो स्रोत: अमर उजाला)


भारत चीन सीमा विवाद पर बोलते हुए मोहन भागवत ने कहा कि चीन ने इस कालावधि में हमारी सीमाओं पर अतिक्रमण किया। यह उनका साम्राज्यवादी स्वभाव है, सब जानते हैं। इस बार भारत ने जो प्रतिक्रिया दी, उसकी वजह से वह सहम गया, क्योंकि भारत तन कर खड़ा हुआ। भारत की सेना ने अपनी वीरता का परिचय दिया। अब दूसरे देशों ने भी चीन को आंख दिखाना शुरू किया है। हमारा स्वभाव मित्रता करने वाला है। हम लड़ने वाले नहीं हैं, लेकिन हमारी मित्रता की प्रवृत्ति को दुर्बलता न समझें। चीन को पहली बार समझ आया कि हम इतने कमजोर नहीं हैं।

Related Articles

Leave a Comment