Latest News
Home ताजा खबर अमेरिका ने दिया भारत को झटका, वैक्सीन निर्माण के कच्चे माल पर लगाई रोक!

अमेरिका ने दिया भारत को झटका, वैक्सीन निर्माण के कच्चे माल पर लगाई रोक!

by Khabartakmedia

Covid-19 Vaccine. भारत में कोरोना वायरस की नई लहर भयानक रूप से फैल रही है। हर रोज तीन लाख से अधिक नए कोरोना संक्रमित सामने आ रहे हैं। तमाम बंदिशों और कायदे कानूनों के बावजूद संक्रमण का असर कम होता नहीं दिख रहा है। दुनियाभर के स्वास्थ्य विशेषज्ञों का मानना है कि इस महामारी से लड़ने का सबसे कारगर उपाय है टीकाकरण। हर व्यक्ति को कोरोना की टीका लगाकर ही इस वायरस से बचाया जा सकता है। इस लिहाज से सभी देशों के लिए कोरोना की टीका बेहद महत्वपूर्ण हो जाती है। इसलिए अंतरराष्ट्रीय स्तर पर टीका को लेकर हल्की फुल्की राजनीतिक बहस भी शुरू हो गई है।

अमेरिका ने हाल ही में टीका निर्माण के कच्चे माल के निर्यात पर रोक लगा दिया है। अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन ने सीधे तौर पर टीका बनाने के लिए आवश्यक कच्ची सामग्री किसी भी देश को न देने का फैसला किया है। इस फैसले का सीधा असर भारत पर भी पड़ा है। भारत में इसके कारण टीकाकरण के कार्यक्रम में सुस्ती आने की संभावना जताई जा रही है।

अमेरिकी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता का बयान:

भारत सरकार ने अमेरिका से अपील की थी कि वो टीका निर्माण में लगने वाले कच्चे माल के निर्यात पर लगी रोक को वापस ले। भारत ने आग्रह किया था कि अमेरिका इस फैसले को उठा ले। अमेरिका के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता नेड प्राइस से यह सवाल पूछा गया कि बाइडेन प्रशासन द्वारा लगाई गई रोक को हटाने के लिए भारत ने अपील की है, इस पर प्रशासन कब फैसला लेगी?

नेड प्राइस ने इस सवाल का सीधा जवाब नहीं दिया। बल्कि जवाब में सिर्फ इतना कहा कि “अमेरिका सबसे पहले अमेरिकी लोगों के टीकाकरण में लगा हुआ है। यही जरूरी भी है।” प्राइस ने कहा कि “यह अभियान बेहतर ढंग से चल रहा है। हमने कुछ वजहों से टीका निर्माण में लगने वाले कच्चे माल पर रोक लगाई है। पहला अमेरिकी लोगों के प्रति हमारी विशेष जवाबदेही है। दूसरा, किसी भी अन्य देश के मुकाबले अमेरिकी लोगों को इस बीमारी से सबसे ज्यादा नुक़सान झेलना पड़ा है।” नेड प्राइस ने अपनी मंशा साफ जाहिर करते हुए कहा कि “हम अपने पहले दायित्व का निर्वहन करेंगे उसके बाद दुनिया के लिए जो भी हो सकेगा करेंगे।

Related Articles

Leave a Comment