Latest News
Home शिक्षाविश्वविद्यालय ABVP के अभ्यास वर्ग में पहुंचे विद्यापीठ के कुलपति, चीफ प्रॉक्टर फर्जी नियुक्ति मामले में साधे हैं चुप्पी

ABVP के अभ्यास वर्ग में पहुंचे विद्यापीठ के कुलपति, चीफ प्रॉक्टर फर्जी नियुक्ति मामले में साधे हैं चुप्पी

by Khabartakmedia

वाराणसी के महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ विश्वविद्यालय के चीफ प्रॉक्टर प्रो. संतोष कुमार गुप्ता की नियुक्ति के खिलाफ चल रहा अनिश्चितकालीन धरना बुधवार को भी जारी है। आज धरने का तीसरा दिन है और छात्र कार्यकर्ता अपनी मांगों को लेकर प्रशासनिक भवन के सामने खुटा गाड़े बैठे हुए हैं। इस फर्जी नियुक्ति प्रकरण में सबसे चौंकाने वाली भूमिका में अब तक विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. टी. एन. सिंह नजर आए हैं। कुलपति प्रो. टी. एन. सिंह ने अब तक इस मामले में चुप्पी साध रखी है और कोई भी प्रतिक्रिया देते हुए नजर नहीं आए हैं। दिलचस्प बात यह है कि पिछले तीन दिनों में वे विश्वविद्यालय में नहीं आए हैं। ऐसे में सवाल उठता है कि विश्वविद्यालय में तीन दिनों से धरना दे रहे छात्रों की बात सुनने के लिए या इस मामले की सुध लेने के लिए कुलपति प्रो. टी. एन. सिंह क्यों नहीं दिख रहे हैं? हालांकि प्रशासनिक भवन के सूत्रों के मुताबिक इस बारे में वे चीफ प्रॉक्टर और कुलसचिव से बातचीत कर चुके हैं लेकिन आधिकारिक रूप से कुलपति की बात खुलकर सामने नहीं आ रही है। बता दें कि कुलपति प्रो. टी. एन. सिंह आज भारतीय शिक्षा इंटर कॉलेज, इंग्लिशिया लाइन में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के अभ्यास वर्ग के दौरान चल रहे उद्घाटन एवं सैद्धांतिक भूमिका सत्र में शामिल होने पहुंचे थे।

भाषण देते विद्यापीठ के कुलपति प्रो. टी. एन. सिंह

ऐसे में सवाल खड़े हो रहे हैं कि क्या कुलपति प्रो. सिंह को अपने ही विश्वविद्यालय में चल रहे एक अनिश्चितकालीन धरने को नजरंदाज करके या इस मामले पर बगैर कोई पहल किए किसी दूसरे कार्यक्रम में शामिल होना चाहिए? पिछले तीन दिनों चीफ प्रॉक्टर के खिलाफ फर्जी नियुक्ति के आरोप को लेकर चल रहे इस पसोपेश में संवाद की घोर कमी नजर आ रही है। छात्र नेता कुछ दस्तावेजों के आधार पर चीफ प्रॉक्टर प्रो. संतोष कुमार गुप्ता के खिलाफ मोर्चा खोल चुके हैं तो दूसरी ओर विश्वविद्यालय का प्रशासनिक महकमा बेहद शांत नजर आ रहा है और कुलपति प्रो. टी. एन. सिंह इसमें निष्क्रिय रूप धारण किए हुए हैं।

धरना देते छात्र नेता

हालांकि आज अपने ऊपर लग रहे सभी आरोपों को सिरे से खारिज करते हुए प्रो. गुप्ता ने धरना दे रहे छात्रों पर कुछ गंभीर आरोप लगाया और कहा कि “ये धरना किसी तीसरे व्यक्ति के उकसावे पर हो रहा है और कुछ छात्र नेताओं के घमंड की वजह से उनकी छवि खराब की जा रही है जिसका मुझे दुख है।”
इस मामले में खबर तक मीडिया पर चीफ प्रॉक्टर प्रो. संतोष कुमार गुप्ता का पूरा इंटरव्यू यहां देख सकते हैं ➡️ https://youtu.be/-mfeHAfA8j8

Related Articles

Leave a Comment