Latest News
Home कोरोना वायरस AAP विधायक ने कहा “दिल्ली में लगाया जाए राष्ट्रपति शासन, सरकार नहीं दे पा रही साथ”

AAP विधायक ने कहा “दिल्ली में लगाया जाए राष्ट्रपति शासन, सरकार नहीं दे पा रही साथ”

by Khabartakmedia

दिल्ली में आम आदमी पार्टी के विधायक शोएब इकबाल ने एक वीडियो जारी किया है। वीडियो कोरोना संक्रमण की तरह ही तेज गति से सोशल मीडिया पर फैल रही है। वीडियो में शोएब इकबाल ने दिल्ली उच्च न्यायालय से यह मांग की है कि “दिल्ली में तत्काल राष्ट्रपति शासन लगा दी जाए। क्योंकि दिल्ली सरकार लोगों का साथ नहीं दे पा रही है।” दिल्ली में आम आदमी पार्टी की सरकार है। अरविंद केजरीवाल यहां के मुख्यमंत्री हैं। ऐसे में उन्हीं की पार्टी के विधायक का कहना कि “सरकार साथ नहीं दे पा रही है” आश्चर्यजनक है।

शोएब इकबाल एक दो दफा से नहीं बल्कि कुल छह बार के विधायक हैं। उन्होंने अपनी वीडियो में इस बात का जिक्र करते हुए कहा है कि “मैं दिल्ली के अंदर सबसे वरिष्ठ विधायक हूं। छह बार से विधायक हूं। लेकिन मैं कुछ नहीं कर पा रहा हूं।” उन्होंने आगे कहा कि “आज मुझे अपने विधायक होने पर फक्र नहीं बल्कि बेइज्जती महसूस हो रही है।” शोएब इकबाल ने बताया कि उनका एक परिचित दिल्ली के एक अस्पताल में भर्ती है। लेकिन ना जरूरी दवाई मेल रही है और ना ही ऑक्सीजन। दिल्ली में ऑक्सीजन की भयानक किल्लत, जरूरी दवाइयों की कमी और अस्पताल में जगह की दिक्कत से दिल्ली में लोगों का बुरा हाल है। लोग इलाज की कमी से दम तोड़ रहे हैं।

इन्हीं कमियों का हवाला देकर शोएब इकबाल ने दिल्ली उच्च न्यायालय से राष्ट्रपति शासन की मांग की है। शोएब इकबाल ने अपने वीडियो के अंत में कहा है कि अगर ऐसा नहीं किया गया और स्थिति नहीं संभाली गई तो दिल्ली की सड़कों पर लाशें बिछ जाएंगी।

गौरतलब है कि दिल्ली में पिछले एक हफ्ते से 300 से अधिक लोग कोरोना की वजह से जान गंवा रहे हैं। दिल्ली में गत शुक्रवार की शाम तक लगभग 98 हजार सक्रिय कोरोना मरीज थे। गौरतलब है कि दिल्ली में फिलहाल ऑक्सीजन की दिक्कत सबसे भीषण है। लोग सोशल मीडिया पर चारों तरफ ऑक्सीजन के लिए गुहार लगा रहे हैं। दिल्ली सरकार और केंद्र सरकार के बीच ऑक्सीजन को लेकर लगातार खींचातानी चल रही है। मामला न्यायालय तक जा पहुंचा है। ऐसे में जब चारों तरफ से अव्यवस्था की खबर आ रही है तब सरकार के ही एक विधायक द्वारा राष्ट्रपति शासन लगाने की मांग गंभीर है।

Related Articles

Leave a Comment