Latest News
Home विशेष 720 में से 695 अंक लाकर पुलवामा के लाल ने नाम किया रौशन, शेष भारत की रोशनी में क्यों नहीं आ सका

720 में से 695 अंक लाकर पुलवामा के लाल ने नाम किया रौशन, शेष भारत की रोशनी में क्यों नहीं आ सका

by Khabartakmedia

उथल पुथल भरी जिंदगी के पर्याय बन चुके कश्मीर के पुलवामा जिले के नरवाह गांव से आने वाले खान बाशित बिलाल ने नीट की 720 अंकों की परीक्षा में 695 अंक प्राप्त किए हैं। यदि फीसदी में बात की जाए तो बशित बिलाल ने भारत की सबसे कठिन परीक्षाओं में से एक नीट की परीक्षा में 96 फीसदी अंक हासिल किए हैं। इस परीक्षा परिणाम ने बिलाल और उनके परिवारवालों समेत पूरे कश्मीर की छाती चौड़ी की है। लेकिन इस चौड़ी हुई छाती पर भारत के उन राज्यों का ध्यान नहीं जा रहा है जो अक्सर कश्मीर को लेकर बेमतलब की खूब बहस किया करते हैं। कश्मीर की वादियों में होने वाली गोलीबारी और अन्य प्रकार की खबरों को सुर्खी बनाने वाली मीडिया भी इस खबर पर चुप है। जबकि ऐसी खबरों को उत्तर भारत के लोगों को खासकर दिखाना चाहिए ताकि वे कश्मीर को लेकर बनाए गए अपने पूर्वाग्रह से बाहर निकल सकें।
मुश्किल हालातों में भी चमक उठे बिलाल:
नीट की परीक्षा में इस बार दो परीक्षार्थियों ने सौ फीसदी अंक भी प्राप्त किए हैं। लेकिन इसके बावजूद बाशित बिलाल का यह प्रदर्शन कई मायनों में ख़ास है। कश्मीर की आबोहवा से हर कोई वाकिफ है और खासकर 5 अगस्त, 2019 के बाद से जिस तरह से पूरा कश्मीर बंद पड़ा था वो सभी जानते हैं। इस दौरान इंटरनेट की समस्या कश्मीर में प्रचंड रूप से छाई हुई थी। अच्छी इंटरनेट की सुविधा के बगैर आज के दौर में पढ़ाई भी एक तरह से चुनौती बन चुकी है। इसके बावजूद बाशित बिलाल ने अपनी मेहनत, लगन और जुनून के बल पर यह मुकाम हासिल किया है।

(फोटो: kashmirilife.net)

Related Articles

Leave a Comment