Latest News
Home शिक्षाविश्वविद्यालय विद्यापीठ की प्रवेश परीक्षाओं में बड़ी संख्या छात्र नहीं पहुंच सके, क्या रही वजह?

विद्यापीठ की प्रवेश परीक्षाओं में बड़ी संख्या छात्र नहीं पहुंच सके, क्या रही वजह?

by Khabartakmedia

वाराणसी स्थित महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ विश्वविद्यालय के नए सत्र 2020-21 के लिए प्रवेश परीक्षाएं शुरू हो चुकी हैं। गत रविवार को दो पालियों में क्रमशः बी. ए. और बी. कॉम. की प्रवेश परीक्षा आयोजित हुईं। प्रवेश परीक्षा के बाद विश्वविद्यालय ने उत्तर कुंजी (Answer Key) भी जारी कर दिया है और यह निर्देश भी दिया गया है कि जिस किसी भी परीक्षार्थी को उत्तर कुंजी को लेकर कोई दिक्कत हो वे विश्वविद्यालय के औपचारिक ईमेल registrarmgkvp@gmail.com पर या कुलसचिव के कार्यालय में अपनी आपत्ति 9 अक्टूबर तक दर्ज करा सकते हैं।
काशी विद्यापीठ के इस नए सत्र के प्रवेश के लिए हुई प्रवेश परीक्षा में दोनों ही पाठ्यक्रमों में हजार से अधिक अभ्यर्थी मौजूद नहीं रहे। विद्यापीठ द्वारा जारी प्रेस विज्ञप्ति में बताया गया है कि रविवार को सुबह की पाली में हुए बी. ए. पाठ्यक्रम की प्रवेश परीक्षा में 6647 बच्चों ने फार्म भरा था लेकिन परीक्षा देने 5012 छात्र- छात्राएं पहुंचे। जबकि 1635 बच्चों ने परीक्षा छोड़ दी। वहीं दूसरी पाली में आयोजित बी. कॉम. की परीक्षा में 5924 अभ्यर्थियों ने पंजीकरण कराया और परीक्षा देने 4699 बच्चे ही पहुंचे और 1225 ने इसमें हिस्सा नहीं लिया।
गौरतलब है कोविड-19 की महामारी की वजह से इस बार विश्वविद्यालय की प्रवेश परीक्षा देरी से हो सकी है और कोरोना महामारी एक बड़ी वजह नजर आती है जिससे कि इतनी बड़ी संख्या में छात्रों ने परीक्षा छोड़ दी है। अब भी पूरे देश में कोरोना का कहर लगातार जारी है और यातायात अब तक आपने सामान्य स्थिति में नहीं पहुंच सका है, जिसकी वजह से परीक्षा में शामिल होने वाले बच्चों की संख्या प्रभावित हुई है।

Related Articles

Leave a Comment