Latest News
Home ताजा खबर बड़ी खबर: हाथरस मामले की जांच होगी इलाहाबाद उच्च न्यायालय की निगरानी में

बड़ी खबर: हाथरस मामले की जांच होगी इलाहाबाद उच्च न्यायालय की निगरानी में

by Khabartakmedia

मंगलवार को भारत के सर्वोच्च न्यायालय ने हाथरस सामूहिक दुष्कर्म मामले में बड़ा फैसला सुनाया है। सुप्रीम कोर्ट ने आदेश दिया है कि हाथरस मामले के हर पहलू की जांच इलाहाबाद उच्च न्यायालय के निगरानी ने होगी। साथ ही न्यायालय ने यह भी कहा कि मामले के गवाहों को पूरी सुरक्षा मुहैया कराई जाए। गौरतलब है कि हाथरस मामले की जांच उत्तर प्रदेश सरकार ने सीबीआई को सौंप दी थी। हाथरस मामले के बाद से ही यह मांग उठ रही थी कि इसकी जांच इलाहाबाद उच्च न्यायालय की निगरानी में कराई जाए। सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले पर भीम आर्मी के प्रमुख चंद्रशेखर आजाद रावण ने प्रतिक्रिया देते हुए #HathrasHorror के साथ ट्वीट किया कि “सुप्रीम कोर्ट ने हाथरस गैंगरेप मामले में CBI जांच को इलाहाबाद हाईकोर्ट की निगरानी में सौंपा। यह हमारे संघर्ष की पहली जीत है। लड़ाई जारी रखिए, बहन को इंसाफ दिला कर रहेंगे।”

बता दें कि उत्तर प्रदेश के हाथरस जिले में एक दलित लड़की के साथ सामूहिक बलात्कार और बर्बरता की घटना सामने आई थी। इलाज के दौरान उत्तर प्रदेश पुलिस के लेटलातीफी की वजह से पीड़िता की मौत हो गई थी। मौत के बाद उत्तर प्रदेश पुलिस ने मामले को दबाने के लिए आनन फानन में पीड़ित परिवार की सहमति के बगैर लड़की के शव को जला दिया। इसके बाद उत्तर प्रदेश पुलिस ने गांव की घेराबंदी की और पीड़िता के परिवार से मिलने जा रहे राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाड्रा समेत कई अन्य नेताओं को जबरन रोकने की कोशिश की। हालांकि बाद में राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाड्रा हाथरस पहुंचे और पीड़िता के परिवार से मिले। बढ़ते दबाव के बाद उत्तर प्रदेश सरकार ने मामले के जांच के लिए एसआईटी का गठन किया और बाद में इसे सीबीआई के हवाले सौंप दिया। फिर भी यह मांग लगातार हो रही थी कि मामले की जांच में इलाहाबाद उच्च न्यायालय शामिल हो। जिसपर आज उच्चतम न्यायालय ने अपनी मुहर लगा दी है।

Related Articles

Leave a Comment