Latest News
Home ताजा खबर पत्रकार प्रशांत कन्नौजिया को न्यायालय से मिली जमानत, सरकार से सवाल करने के लिए कर रहे थे भुगतान!

पत्रकार प्रशांत कन्नौजिया को न्यायालय से मिली जमानत, सरकार से सवाल करने के लिए कर रहे थे भुगतान!

by Khabartakmedia

बुधवार को इलाहाबाद उच्च न्यायालय ने पत्रकार प्रशांत कन्नौजिया की जमानत मंजूर कर ली है। प्रशांत कन्नौजिया को जमानत दे दी गई है। इस खबर की पुष्टि उनकी पत्नी जगिशा अरोड़ा ने ट्वीट के जरिए किया है। जगिशा ने अपने ट्वीट में लिखा है कि “मेरा न्यायपालिका और बाबा साहेब के संविधान पर विश्वास रंग लाया।” बता दें कि प्रशांत कन्नौजिया पिछले दो महीने से पुलिस की हिरासत में थे।


गौरतलब है कि प्रशांत कन्नौजिया पर अयोध्या में बन रहे राम मंदिर को लेकर एक गलत तस्वीर ट्विटर पर साझा करने और धार्मिक भावनाओं को आहत करने तथा सामाजिक समरसता को बिगाड़ने के आरोप लगे थे। इसी के आधार पर उत्तर प्रदेश पुलिस के पास एक मुकदमा प्रशांत के खिलाफ दर्ज करवाया गया था। जिसके बाद प्रशांत कन्नौजिया को उनके दिल्ली आवास से पुलिस ने गिरफ्तार किया। हालांकि जिस ट्वीट के आधार पर प्रशांत कन्नौजिया की गिरफ्तारी हुई थी उसे प्रशांत ने तत्काल डिलीट भी कर दिया था। पुलिस की कार्रवाई से आहत होकर बहुत से लोगों ने उत्तर प्रदेश सरकार पर जबरन एक बहुजन पत्रकार को प्रताड़ित करने का आरोप लगाया। प्रशांत कन्नौजिया की छवि सरकार के विरोध में आवाज उठाने वाली और सरकार से सवाल करने वाली रही है। वे हर मुद्दे पर खुलकर अपनी राय रखने के लिए जाने जाते हैं। इसी बूते पर यह कहा गया कि सरकार जानबूझकर प्रशांत कन्नौजिया को अपना निशाना बना रही है। गिरफ्तारी के बाद से ट्विटर पर कई बार प्रशांत के पक्ष में अलग- अलग प्रकार के हैशटैग ट्रेंड कराए गए और लोगों ने उनकी रिहाई के लिए आवाज उठाई। जिसपर अब उच्च न्यायालय ने अपना फैसला सुना दिया है और प्रशांत कन्नौजिया की जमानत मंजूर हो गई है।

Related Articles

Leave a Comment