Latest News
Home Uncategorizedकृषि किसान आंदोलन के समर्थन में हनुमान बेनीवाल ने छोड़ा NDA का दामन

किसान आंदोलन के समर्थन में हनुमान बेनीवाल ने छोड़ा NDA का दामन

by Khabartakmedia

केंद्र सरकार के नए कृषि कानून के विरोध में हो रहे देशव्यापी किसान आंदोलन के समर्थन में एनडीए में भारतीय जनता पार्टी के सहयोगी हनुमान बेनीवाल ने एनडीए से अपना नाता तोड़ लिया है। राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी के संयोजक हनुमान बेनीवाल ने शनिवार को एनडीए से अलग होने की घोषणा की है। राजस्थान के नागौर से सांसद हनुमान बेनीवाल ने आज ही अलवर जिले में शाहजहांपुर-खेड़ा सीमा पर आंदोलन कर रहे किसानों के बीच खड़े होकर एनडीए से अलग होने का ऐलान किया।
हनुमान बेनीवाल ने केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार द्वारा बनाए गए तीनों कृषि कानूनों को किसान विरोधी कानून बताया। हनुमान बेनीवाल ने यह भी कहा कि “हमने एनडीए के साथ अपना गठबंधन तोड़ दिया है लेकिन कांग्रेस के साथ गठबंधन करने नहीं जा रहे हैं।”

शाहजहांपुर-खेड़ा सीमा पर आंदोलन कर रहे किसानों के बीच हनुमान बेनीवाल

गौरतलब है कि पिछले तीन हफ्तों से देशभर में केंद्र सरकार के तीन कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों द्वारा आंदोलन चलाया जा रहा है। किसानों की मांग है कि सरकार इन कानूनों को पूरी तरह से वापस ले और एमएसपी की गारंटी दे। केंद्र सरकार और किसान नेताओं के बीच अब तक कई मरतबा बैठकें भी हो चुकी हैं लेकिन कोई बात नहीं बन सकी है। केंद्र सरकार कानून में संशोधन करने के लिए राजी तो हो गई है लेकिन किसानों का कहना है कि सरकार इसे पूरी तरह से वापस ले और एमएसपी को लेकर लिखित गारंटी दे। हालांकि आज फिर से यह खबर आई है कि किसान नेताओं और केंद्र सरकार के बीच 29 दिसंबर को एक बार फिर बातचीत होनी है।

Related Articles

Leave a Comment