Latest News
Home ताजा खबर अर्णव गोस्वामी समेत कई पत्रकारों और मीडिया चैनल्स के खिलाफ बॉलीवुड पहुंचा दिल्ली उच्च न्यायालय

अर्णव गोस्वामी समेत कई पत्रकारों और मीडिया चैनल्स के खिलाफ बॉलीवुड पहुंचा दिल्ली उच्च न्यायालय

by Khabartakmedia

हिन्दी फिल्म उद्योग (बॉलीवुड) के कई संगठनों और फिल्म निर्माताओं ने मीडिया में चल रही अपने खिलाफ अफवाहों पर रोक लगाने के दिल्ली उच्च न्यायालय का दरवाजा खटखटाया है। सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद जिस प्रकार से देश के बड़े मीडिया चैनल्स और पत्रकारों ने बॉलीवुड को लेकर दिन-रात खबरें चलाई है और समाचार के नाम पर झूठ और अफवाह परोसा उसके खिलाफ अब बॉलीवुड खड़ा हो गया है। बॉलीवुड की चार संस्थाएं और 34 फिल्म निर्माताओं ने मिलकर दिल्ली हाई कोर्ट में एक याचिका दायर की है और मीडिया में चल रहे बॉलीवुड के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणी और मीडिया ट्रायल पर रोक लगाने की मांग की है। एएनआई की खबर के मुताबिक रिपब्लिक टीवी, अर्णव गोस्वामी, प्रदीप भंडारी, टाइम्स नाउ, राहुल शिवशंकर, नविका कुमार जैसे मीडिया चैनल्स और पत्रकारों के नाम खासतौर से शामिल हैं।

सुशांत सिंह राजपूत मौत मामले में फैलाया गया झूठ
गौरतलब है कि 14 जून को सुशांत सिंह राजपूत के आत्महत्या की खबर सामने आई थी। इसी के बाद से कई टीवी न्यूज चैनल्स ने हर दिन इस घटना को तोड़मरोड़ कर पेश किया और अलग-अलग मनगढ़ंत कहानियां परोसी। लगातार एक के बाद एक बॉलीवुड और उसके सदस्यों के खिलाफ एक मुहिम चलाकर उन्हें बदनाम करने की साज़िश रची गई। सुशांत सिंह राजपूत की आत्महत्या को हत्या के रूप में पेश किया गया और इसके लिए रिया चक्रवर्ती समेत कई लोगों कठघरे में खड़ा किया गया। हालांकि अब एम्स अस्पताल की फॉरेंसिक रिपोर्ट, सीबीआई व एनसीबी के जांच और रिया चक्रवर्ती को जमानत देते वक्त बॉम्बे हाईकोर्ट की टिप्पणी के बाद यह स्पष्ट हो गया कि सुशांत सिंह राजपूत ने खुदकुशी की थी और इसमें रिया चक्रवर्ती या किसी दूसरे का कोई हाथ नहीं था।

Related Articles

Leave a Comment