Latest News
Home राजनीति अन्नदाता के भविष्य की चिंता नही कर रही सरकार: शाशिप्रताप सिंह

अन्नदाता के भविष्य की चिंता नही कर रही सरकार: शाशिप्रताप सिंह

by Khabartakmedia

शुक्रवार को सुहलदेव भारतीय समाज पार्टी के द्वारा वाराणसी के शास्त्री घाट पर बुद्धि-शुद्धि हवन पूजन किया गया। इस हवन पूजन के कार्यक्रम में मुंबई में चल रहे ड्रग्स के खेल, रोजगार और कृषि विधेयकों को मुद्दा बनाया गया था।
कार्यक्रम में बतौर मुख्यवक्ता सुभासपा के प्रदेश उपाध्यक्ष शशिप्रताप सिंह ने बताया कि जिस तरह फ़िल्म इन्डस्ट्री में ड्रग्स का खेल हो रहा है उसको लेकर आज बुद्धि शुद्धि हवन किया गया। भगवान फ़िल्म जगत से जुड़े लोगों को बुद्धि दे, ड्रग्स एक नशा है जो नाश की जननी है। बॉलीवुड के कलाकारों से जनता बहुत कुछ सीखती है, उनको अपना आदर्श मानती है। जिसको युवा पीढ़ी अपना आइडियल मानता है उन पर लग रहे आरोप से फ़िल्म जगत की हो रही थू-थू से युवाओं पर असर पड़ेगा।
केंद्र और राज्य सरकार को बुद्धि आए:
सरकार प्रति वर्ष 02 करोड़ युवाओं को रोजगार देने के बदले उल्टा 4 करोड़ लोगों को प्रति वर्ष लोगों बेरोजगार बना रही है।
लॉकडाउन में आये सभी श्रमिकों को सरकार ने धोखा दिया, फिर से सभी श्रमिक यूपी से अन्य प्रांतों में जाने को मजबूर हुए, गांव में ही रोजगार देने का वादा झूठा था और रोजगार देने के मामले में सरकार विफल साबित हुई।
किसानों का न ही कर्ज माफ हुआ, ना बीज-खाद, बिजली ही सस्ती हुई, किसान कभी सूखे की मार, कभी बाढ़ से बर्बादी झेलता है। फिर भी कोई राहत नही किसान को।
माफ हो किसानों की बिजली बिल:
जो किसान अपना पेट काट कर, 135 करोड़ जनता का पेट भरता है, उसपर केंद्र सरकार की ओर से उपेक्षा और और कर लगाना न्यायोचित नहीं है इसका विरोध होता रहेगा।
जमाखोरों के चलते फिर से प्याज 50 रुपये किलो हो गया है, आलू 35 रुपये किलो लहसुन 200 रुपये किलो तमाम सब्जियां महंगी हो रही हैं।
कार्यक्रम का संचालन प्रमुख महासचिव युवा मंच जागेश्वर राजभर ने किया।
कार्यक्रम में मुख्य रूप से मंडल अध्यक्ष रमेश राजभर, जिलाध्यक्ष गणेश चौहान, प्रदेश के नेता बिनोद सिंह टी टी, चंदन विश्वकर्मा, राजेन्द्र पटेल, रवि सिंह पटेल, राजू मौर्या, दशरथ राजभर, लालबहादुर, पूजा सोनकर, हंसा राजभर, गोपाल, हिर्दय राज , अंकित राजभर, मनीष राजभर, छपन राजभर, सिद्धार्थ राजभर व अन्य कार्यकर्ता मौजूद रहे।

Related Articles

Leave a Comment